Friday, August 19, 2022

पूर्व विवाद में चाचा ने भतीजे पर किया हमला और 24 जून की अन्य बड़ी ख़बरें

Must read

Main Mediahttps://mainmedia.in
This story has been done by collective effort of Main Media Team.

पूर्व विवाद में चाचा ने भतीजे पर किया हमला

अररिया ज़िले के पलासी थाना क्षेत्र के चहटपुर पंचायत अंतर्गत धनगमा में मंगलवार को पूर्व से चले आ रहे विवाद को लेकर चाचा ने अपने भतीजे पर जान मारने की नियत से दबिया से वार कर दिया। हल्ला सुनकर युवक की मां और बहन पहुंची, तो चाचा और उसके परिवार वालों ने दबिया, फरसा, और तलवार से तीनों को गंभीर रूप से घायल कर दिया। घायलों की चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोग जमा हुए जिस के बाद घायलों को इलाज के लिए पलासी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया।

स्थिति गंभीर देखते हुए बेहतर इलाज के लिए उन्हें पूर्णिया सेंटर रेफर कर दिया गया, जहां अब घायलों का इलाज चल रहा है। घायलों में पलासी थाना क्षेत्र के धनगमा निवासी मतीन अहमद के पुत्र अफसार आलम, पुत्री सानिया मिर्जा और उनकी पत्नी गुलशन आरा शामिल है। इस मामले को लेकर घायल परिजनों द्वारा पलासी थाना में नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई गई। जिसके बाद पलासी पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए छापेमारी अभियान चलाया और 3 महिला अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि मुख्य अभियुक्त मन्नान अहमद अभी फरार चल रहा है, जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है।

375 बोतल कोडिन युक्त कफ सीरप बरामद

गुरुवार को अररिया नगर थाना पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी करते हुए जहांगीर बस्ती के समीप NH 57 पर एक स्कॉर्पियो गाड़ी से भारी मात्रा में नकली दवा बरामद की। साथ ही मौके से कारोबारी को गिरफ्तार कर, स्कॉर्पियो जब्त कर ली है।

इस बारे में जानकारी देते हुए नगर थाना अध्यक्ष शिवशरण शाह ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि जहांगीर बस्ती NH57 पर नशीली दवा का कारोबार हो रहा है, जिसके बाद गश्ती दल के द्वारा छापेमारी की गई तो स्कॉर्पियो गाड़ी से 375 बोतल कोडिन युक्त कफ सीरप बरामद हुआ, मौके से कारोबारी को गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तार कारोबारी किशनगंज जिले के कोचाधामन निवासी शाह आलम बताया जा रहा है।

6 वर्षों से नौकरी से गायब रहने वाले दो डॉक्टर बर्खास्त

बिहार सरकार ने 6 वर्षों से नौकरी से गायब रहनवाले किशनगंज के दो डॉक्टरों को बर्खास्त कर दिया है। मिली जानकारी के अनुसार वर्ष 2016 में दोनों डॉक्टर जुनैद अख्तर और आशुतोष कुमार ने किशनगंज सदर अस्पताल में जोइनिंग की थी। जोइनिंग के कुछ ही दिनों के अंदर चिकित्सा पदाधिकारी डॉ जुनैद अख्तर ने अपनी पद से इस्तीफा दे दिया था जबकि डॉ. आशुतोष कुमार अपनी डियूटी से गायब रहे।

मंगलवार 21 जून को सीएम नीतीश कुमार की अध्यक्षता में पटना में हुई कैबिनेट की बैठक में उन दोनों चिकित्सकों की बर्खास्तगी पर मुहर लगा दी गई थी। सिविल सर्जन ने पुष्टि कर कहा कि दोनों चिकित्सको को कर्तव्यहीनता के आरोप में सरकार के आदेश पर नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया है।

सात हजार लीटर विदेशी शराब बरामद

किशनगंज पुलिस ने मोहरमारी रोड पर काठ पुल के पास पक्की सड़क पर चेकिंग के क्रम में एक टेन व्हीलर के ट्रेलर से सात हजार 127 लीटर विदेशी शराब बरामद की। इस दौरान झारखण्ड निवासी देवनाथ प्रजापति और सिट्टू राम को गिरफ्तार किया गया है। उक्त वाहन पर विदेशी शराब को असम से पटना के लिए ले जाया जा रहा था। इस संबंध में मामला दर्ज कर अग्रतर कारवाई की जा रही है।

तुलसिया पंचायत प्राथमिक विद्यालय में चोरी

किशनगंज के दिघलबैंक प्रखंड अंतर्गत, तुलसिया पंचायत प्राथमिक विद्यालय, जनता हाट में, आए दिन चोरी होती रहती है। बीती रात भी चोरो ने स्कूल से चापाकल ,खिड़की की रोड सहित स्कूल की दीवार को तोड़ दिया है। ग्रामीणों ने मुख्य मंत्री दरबार मे गुहार चार दिवारी बनाने की मांग की है। जिससे स्कूल मे नुकसान रुक सकें, और सरकारी संपति बर्बाद ना हो।

किशनगंज में 41 दिन के बाद कोरोना के दो नये मामले

किशनगंज जिले में लगभग 41 दिन के बाद कोरोना संक्रमण के दो नये मामले सामने आए हैं। जिसके बाद विभागीय सतर्कता बढ़ा दी गयी है। इससे पहले जिले में 12 मई को संक्रमण का मामला सामने आया था। इस बार शहरी इलाके के सदर अस्पताल के ट्रामा सेंटर की महिला कर्मी, और माता गुजरी मेडिकल कॉलेज की महिला डाक्टर संक्रमित पाई गयी हैं। सदर अस्पताल प्रांगन में संक्रमित मरीज मिलने के बाद स्थानीय स्वास्थ्य महकमा अलर्ट हो गया है। प्रभावित क्षेत्र में सघन जांच अभियान का संचालन करते हुए वंचितों के टीकाकरण पर विशेष जोर दिया जा रहा है।

नदी कटाव से परेशान ग्रामीण ने किया डीएम का घेराव

किशनगंज जिला पदाधिकारी श्रीकांत शास्त्री द्वारा जन समस्याओं को ऑन द स्पॉट निपटाने के लिए इन दिनों प्रत्येक प्रखण्ड में शिविर लगाकर, आपके द्वार कार्यक्रम चलाया जा रहा है। जिसके तहत आज ठाकुरगंज प्रखंड मुख्यालय परिसर में जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में सीधे जन संवाद का आयोजन किया गया, जिसमें प्रखंड क्षेत्र से आए विभिन्न लोगों अपनी समस्याओं के समाधान हेतु जनता दरबार पहुंचे। सभी लोगों की समस्याओं को बारी-बारी से सुना गया और त्वरित निष्पादन हेतु सम्बंधित विभाग के पदाधिकारियों को तत्काल निर्देश दिया।

यह भी पढ़ें: ‘गोरखालैंड’ का जिन्न फिर बोतल से बाहर

कार्यक्रम की समाप्ति के बाद वापस लौट रहे, जिला पदाधिकारी के वाहन को प्रखंड मुख्यालय परिसर में नदी कटाव से परेशान खारूदह पंचायत के ग्रामीणों ने रोक कर घेराव किया। और नदी कटाव निरोधी कार्य करने की मांग करने लगे। ग्रामीणों ने बताया कि लगभग दो साल से कनकई नदी के भयंकर कटाव के कारण लगभग 50 परिवार दो साल से बेघर हैं। जिला पदाधिकारी ने ऑन द स्पॉट संबंधित अधिकारियों को 24 घण्टे के अंदर कटाव निरोधी कार्य का निर्देश दिया।


पूर्णिया एयरपोर्ट: किसानो ने कहा – जान दे देंगे, लेकिन जमीन नहीं

नदी कटाव में प्राथमिक स्कूल विलीन होने की कगार पर और 23 जून की अन्य बड़ी ख़बरें


- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article