Main Media

Seemanchal News, Kishanganj News, Katihar News, Araria News, Purnea News in Hindi

Support Us

बिहार में बढ़ते किडनैपिंग केस, अधूरी जांच और हाईकोर्ट की फटकार

क्या अवैध तरीके से हुई बिहार विधान परिषद के कार्यकारी सचिव की नियुक्ति?

जमीन के विशेष सर्वेक्षण में रैयतों को दी गई ऑनलाइन सेवाओं की क्या है सच्चाई

Investigation की अन्य ख़बरें

राज्य सूचना आयोग खुद कर रहा सूचना के अधिकार का उल्लंघन

सूचना का अधिकार कानून, जिसे संक्षेप में आरटीआई भी कहते हैं, आगामी 12 अक्टूबर को अपने अस्तित्व के 18 बसंत पूरे करने वाला है। बिहार राज्य सूचना आयोग और तमाम लोक सूचना प्राधिकार उम्र के इसी दहलीज पर हैं।

“SSB ने पीटा, कैम्प ले जाकर शराब पिलाई” – मृत शहबाज के परिजनों का आरोप

मैं मीडिया’ ने शहबाज की पोस्टमार्टम रिपोर्ट हासिल की है, जिसमें उसके हाथ, पैर, मुंह, सिर समेत अन्य जगहों पर जख्म के 11 निशान होने का जिक्र किया गया है। रिपोर्ट में मौत की वजह जख्मों के चलते सदमाग्रस्त होना और हेमरेज बताया गया है।

बिहार जातीय गणना के खिलाफ कोर्ट में याचिकाओं का BJP-RSS कनेक्शन

जातिगत सर्वेक्षण के खिलाफ दो संगठनों और कुछ व्यक्तियों ने याचिकाएं डाली थीं। जिन दो संगठनों के नाम याचिकाकर्ताओं में शामिल हैं, उनमें एक ‘यूथ फॉर इक्वेलिटी’ और दूसरा ‘एक सोच एक प्रयास’ शामिल हैं।

बिहारशरीफ दंगा: मोदी जिसे ट्विटर पर फॉलो करते हैं वह अकाउंट जांच के दायरे में

नालंदा जिले के बिहारशरीफ टाउन में 31 मार्च और 1 अप्रैल को हुई हिंसा को लेकर बिहार की आर्थिक अपराध इकाई ने जो एफआईआर दर्ज कराई है, उसमें बजरंग दल से जुड़े लोग, 456 सदस्यों वाला बजरंग नालंदा नाम का वाट्सऐप ग्रुप, कुछ इंस्टाग्राम अकाउंट के साथ ही एक ट्विटर हैंडल नामजद हैं।

किसान ने धान बेचा नहीं, पैक्स में हो गई इंट्री, खाते से पैसे भी निकाले

सहकारिता विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, खरीफ सीजन 2022-2023 में बिहार में 42,04,774.957 मीट्रिक टन धान की खरीद की गई। वहीं, रोहतास जिले में 4,35,317.340 मीट्रिक टन धान की खरीद हुई।

बांग्ला भाषा का मतलब ‘घुसपैठ’ कैसे हो गया दैनिक जागरण?

2022 के आखिरी तीन दिनों में दैनिक जागरण द्वारा चलाए गए सीरीज 'सीमांचल का सच' में कई ऐसे दावे किए गए, जो खबर के नाम पर मज़ाक लगते हैं।

विदेशों में काम की चाहत में ठगों के चंगुल में फंस रहे गरीब

पिछले तीन महीनों में 'मैं मीडिया' की टीम ने ऐसे दर्जनों प्रवासी मज़दूरों और उनके परिजनों से बात कर बर्बादी के स्तर को समझने की कोशिश की।

एएमयू किशनगंज की राह में कैसे भाजपा ने डाला रोड़ा

01 दिसंबर 2011 को बिहार सरकार ने किशनगंज शहर से लगभग 2-3 किलोमीटर दूर चकला और गोविंदपुर मौजा में 224.02 एकड़ जमीन एएमयू किशनगंज कैम्पस के लिए आवंटित की थी।

कोसी क्षेत्र में क्यों नहीं लग पा रहा अपराध पर अंकुश

सुपौल: 24 अगस्त 2019 की शाम बिहरा थाना क्षेत्र के पुरीख स्थित सहरसा-सुपौल मुख्य मार्ग पर वाटर प्लांट के सामने नरसिंह झा को बाइक सवार बदमाशों ने लूट के दौरान गोली मारकर हत्या कर दी थी। नरसिंह झा सहरसा से बीना बभनगामा जा रहे थे। इस हत्याकांड के बाद लोगों में गुस्सा इतना बढ़ गया […]

स्मार्ट मीटर बना साइबर ठगों के लिए ठगी का नया औजार

बढ़ती महंगाई के बीच एक तरफ लोग जहाँ स्मार्ट प्रीपेड मीटर पर अधिक बिल आने से परेशान हैं, तो वहीं दूसरी तरफ साइबर क्राइम का गिरोह भी स्मार्ट मीटर को लेकर ठगी करने के लिए सक्रिय हो गया है। बिजली उपभोक्ताओं को स्मार्ट प्रीपेड मीटर का बिल अपडेट करने के नाम पर बैंक अकाउंट खाली […]

अररिया में हिरासत में मौतें, न्याय के इंतजार में पथराई आंखें

बिहार के अररिया ज़िले में पिछले दो सालों में पुलिस हिरासत में लगभग आधा दर्जन मौत या विचाराधीन कैदियों के अस्पताल में इलाज के दौरान मृत्यु के मामले सामने आए हैं। ये सभी आर्थिक रूप से कमज़ोर, अल्पसंख्यक या महादलित परिवार से हैं। 13 मई, 2020 को मोहम्मद मुमताज़, 31 दिसंबर, 2020 को मोहम्मद अशफ़ाक़, […]

Watch: सचिव और मुखिया की मिलीभगत से पंचायत में लाखों का घोटाला

किशनगंज जिले के पोठिया प्रखंड अंतर्गत दामलबाड़ी पंचायत से जुड़ा हुआ है, जहाँ के पूर्व मुखिया और पंचायत सचिव पर सरकारी योजना के नाम पर अवैध निकासी का आरोप लगा है।

Latest Posts

Ground Report

क़र्ज़, जुआ या गरीबी: कटिहार में एक पिता ने अपने तीनों बच्चों को क्यों जला कर मार डाला

त्रिपुरा से सिलीगुड़ी आये शेर ‘अकबर’ और शेरनी ‘सीता’ की ‘जोड़ी’ पर विवाद, हाईकोर्ट पहुंचा विश्व हिंदू परिषद

फूस के कमरे, ज़मीन पर बच्चे, कोई शिक्षक नहीं – बिहार के सरकारी मदरसे क्यों हैं बदहाल?

आपके कपड़े रंगने वाले रंगरेज़ कैसे काम करते हैं?

‘हमारा बच्चा लोग ये नहीं करेगा’ – बिहार में भेड़ पालने वाले पाल समुदाय की कहानी