Friday, August 19, 2022

नुपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर किशनगंज में प्रदर्शन & 16 जून की अन्य बड़ी खबरें

Must read

Main Mediahttps://mainmedia.in
This story has been done by collective effort of Main Media Team.

नुपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन

बीजेपी से निष्कासित नेता नुपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर किशनगंज में लोगोें ने जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने रेलवे ट्रैक सहित राष्ट्रीय उच्च पथ 27 को करीब एक घंटे तक जाम कर दिया।

रेलवे ट्रैक जाम करने की वजह से 15629 ताम्बरम-शिलघाट एक्सप्रेस करीब 45 मिनट तक स्टेशन से पहले रूईधासा मैदान के निकट रुकी रही। बताते चलें कि शहर में सीरत कमेटी द्वारा मौन जुलूस निकालकर जिला पदाधिकारी को ज्ञापन सौंपने की बात कही गई थी, लेकिन शहर के सुभाषपल्ली स्थित अंजुमन इस्लामिया में लोगोें की भारी भीड़ जुटने के बाद कमेटी द्वारा जुलूस को स्थगित करने की बात कही गई।

कमेटी के लोग युवाओं को समझाने की कोशिश कर रहे थे कि कमेटी के फैसले से नाराज सैकड़ों युवा हाथो में तख्ती लिए जुलूस की शक्ल में बाजार निकल गए। सुभाष पल्ली, चूड़ीपट्टी से गांधी चौक होते हुए युवकों का दल राष्ट्रीय उच्च पथ 27 पहुंचा, जहां सभी ने सड़क और रेलवे मार्ग को जाम कर दिया, जिससे चेन्नई से गुवाहाटी जा रही शिलघाट ताम्बरम एक्सप्रेस ट्रेन लगभग 45 मिनट रुकी रही।

वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस सांसद डॉ मुहम्मद जावेद आज़ाद, किशनगंज विधायक इजहारुल हुसैन, AIMIM के प्रदेश अध्यक्ष सह अमौर विधायक अख्तरुल ईमान, बहादुरगंज विधायक अंजार नईमी ने मौन जुलूस निकाल कर जिला पदाधिकारी को नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर एक ज्ञापन सौंपा।

बनमनखी में एटीएम बदलकर ठगी करने के आरोप में गिरफ्तार व्यक्ति की मौत

पूर्णिया के बनमनखी थाना क्षेत्र अंतर्गत एटीएम बदलकर ठगी करने के आरोप में गिरफ्तार हुए एक व्यक्ति की मौत हो गई। उसकी पहचान अफरोज के रूप में की गई है। वह सरसी थाना अंतर्गत डुमरिया का रहनेवाला था। बताया जाता है कि स्थानीय लोगों ने उसे पकड़ कर बनमनखी पुलिस के हवाले किया था।

पुलिस ने आरोपित के पास से कई बैंकों का एटीएम जब्त किया। पुलिस के मुताबिक, हिरासत में ही अफरोज की अचानक तबियत बिगड़ गई। पहले उसे बनमनखी अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती किया गया। जहां से डाक्टरों ने पूर्णिया मेडिकल कॉलेज भेज दिया। वहां से उचित उपचार के लिए उसे निजी अस्पताल लाया गया और इलाज के दौरान अफ़रोज़ की मौत हो गयी।

मृतक की पत्नी का आरोप है कि जब बनमनखी पुलिस से पति को छोड़ने का अनुरोध किया तो पुलिस ने पांच लाख रुपये नजराना देने की मांग की। इतना ही नहीं उसे हिरासत में पीटा भी गया। इसके अलावा चौकीदार सत्तन पर ज़हर की सुई देकर मारने का आरोप लगाया। इधर मृतक की सास हफीजा खातून ने बताया कि पुलिस ने मारपीट कर बेहोश कर दिया और तीन बजे सुबह बीमार होने की सूचना दी।

मृतक के परिजन का कहना है कि दोस्त के कहने पर अफरोज घर से बाहर गया और उसी ने साजिश के तहत एटीएम देकर उसे फंसा दिया। हालांकि बनमनखी थाना पुलिस ने मारपीट की घटना से इनकार किया। उन्होंने कहा कि लोगों ने आरोपित को पकड़ा। उसके बाद उसे थाना लाया गया। तबियत खराब होने पर अस्पताल लाया गया।

ट्रेन में यात्रा कर रही महिला पुलिसकर्मी को झपटमार गिरोह मारा धक्का

समस्तीपुर कटिहार पैसेंजर ट्रेन में यात्रा कर रही महिला पुलिसकर्मी को झपटमार गिरोह के सदस्य ने मोबाइल छीनने के दौरान ट्रेन से धक्का दे दिया। घायल महिला पुलिसकर्मी ने बताया कि वह समस्तीपुर कटिहार पैसेंजर ट्रेन में यात्रा कर रही थी, इसी दौरान झपटमार गिरोह के एक सदस्य द्वारा उनके हाथों से मोबाइल छीन लिया गया, विरोध करने पर उनके एक सदस्य द्वारा उन्हें ट्रेन से धक्का मार दिया गया।

महिला पुलिसकर्मी ने बताया कि वह गौशाला के पास रेल ट्रैक पर गिर पड़ी, जिसके बाद वह काफी चिल्लाने लगी। तब स्थानीय लोग घायल अवस्था में पहले उसे कटिहार सदर अस्पताल ले गये। बाद में उन्हें कटिहार मेडिकल कॉलेज इलाज के लिए ले जाया गया।

विश्वविद्यालय बनाओ संघर्ष समिति के संस्थापक आलोक राज का अनोखा प्रदर्शन

पूर्णिया में बिहार के विश्वविद्यालयों के कुलाधिपति के ख़िलाफ़ एक शख्स ने अनोखे अंदाज में मोर्चा खोल दिया है। जिस्म पर भ्रष्टाचार के आरोपों का चिट्ठा छापे निकल पड़े हैं गांधी जी से आशीर्वाद लेने। इस शख्स ने अनोखे अंदाज़ में भ्रष्टाचार की जड़ राज्यपाल को ही बता डाला। ये शख्स हैं विश्वविद्यालय बनाओ संघर्ष समिति के संस्थापक आलोक राज।

दरअसल आलोक राज पूर्णिया विश्विद्यालय बनाओ संघर्ष समिति के संस्थापक हैं। वह लंबे समय से शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर करने के लिए पूर्णिया में विश्वविद्यालय बनाने की मांग कर रहे थे । इनके संघर्ष के बाद वर्ष 2018 में पूर्णिया को विश्वविद्यालय मिला । लेकिन तब से अब तक यह विश्वविद्यालय पढ़ाई छोड़कर भ्रष्टाचार के मामले में सुर्खियां बटोरता रहा है।

आलोक राज के मुताबिक विश्वविद्यालय में होने वाले भ्रष्टाचार के तार ढूंढना शुरू किया तो बेहद चौंकाने वाली बातें सामने आईं । उन्होंने बताया कि न केवल पूर्णिया विश्वविद्यालय बल्कि बिहार भर के विश्विद्यालयों में हो रहे भ्रष्टाचार की जड़ कुलाधिपति हैं जिन्हें बिहार के महामहिम राज्यपाल के तौर पर जाना जाता है ।

आलोक का आरोप है कि बिहार के सभी विश्वविद्यालयों में होने वाले भ्रष्टाचार की जड़़ महामहिम ही हैं। आलोक राज ने अपने जिस्म पर कपड़े की जगह भ्रष्टाचार के पिटारों का चिट्ठा लिख कर पहन लिया और पूर्णिया विश्वविद्यालय अंतर्गत आने वाले पूर्णिया कॉलेज परिसर स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा पर आशीर्वाद लेने पहुंच गए ।

आलोक ने जन प्रतिनिधि से अपील की है कि वो भी इस मुद्दे को सदन में उठाएं, जिससे मामला प्रधानमंत्री तक पहुंचे। इसके लिए वह सभी जनप्रतिनिधियों के दरवाजे तक इसी लिबास में जाएंगे। चाहे वह पूर्णिया के हों या फिर राजधानी के। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की है।

हापुड़ में मरे मज़दूरों को मिलेगा एक-एक लाख रुपये मुआवजा

उत्तर प्रदेश के हापुड़ के धौलाना में अवैध पटाखा फैक्ट्री में हुए विस्फोट में किशनगंज के दो मज़दूरों की मौत हो गयी। दोनों युवक दिलशाद और एजाज आलम किशनगंज जिले के कोचाधामन थाना अंतर्गत बोहिता गांव के रहने वाले थे।

मृतकों के परिजनों को राज्य सरकार द्वारा एक-एक लाख रुपये मुआवजा दिया जाएगा। किशनगंज डीएम श्रीकांत शास्त्री ने कहा कि बिहार से बाहर देश-विदेश में काम करने वाले प्रवासी मजदूरों की मौत होती है, तो श्रम संसाधन विभाग उनके परिजनों को बिहार प्रवासी मजदूर दुर्घटना अनुदान योजना का लाभ देगी। उसी प्रावधान के तहत दोनों मृतकों के आश्रितों को मुआवजा देने की प्रक्रिया जारी है।

किशनगंज के रमजान नदी में जलकुंभी की सफाई के लिए अभियान शुरू

किशनगंज शहर के चूड़ीपट्टी स्थित रमजान नदी में बीते दिनों जलकुंभी फैलने लगी थी। शहर चूड़ी पट्टी से लेकर लाइन धोबी घाटों तक जलकुंभी ने अपना जाल बना लिया था। इसके कारण जल भी प्रदूषित हो रहा था। पानी के अंदर के जलीय जीव-जंतुओं को आक्सीजन की कमी के साथ साथ नदी पर बनें पुल पर भी संकट बढ़ रहा था।

डीएम श्रीकांत शास्त्री द्वारा उक्त नदी के निरीक्षणके बाद नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी दीपक कुमार को जलकुंभी हटाने का निर्देश दिया था। इस निर्देश के आलोक में मंगलवार से नगर परिषद द्वारा नदी से जलकुंभी की सफाई के लिए अभियान शुरू किया गया।

पूर्णिया प्रमंडल आयुक्त गोरखनाथ ने अररिया सदर अस्पताल का किया औचक निरीक्षण

बुधवार को पूर्णिया प्रमंडल आयुक्त गोरखनाथ ने अररिया सदर अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। वहां उन्होंने कई कमियां पाईं और इस पर खासा नाराज भी दिखे। दरअसल सदर अस्पताल की कुव्यवस्था को लेकर लगातार अधिकारियों को शिकायत की जा रही थी। इसी को लेकर पूर्णिया प्रमंडल के आयुक्त गोरखनाथ ने सदर अस्पताल का निरीक्षण किया।

उनके साथ अररिया डीएम इनायत खान और सीएस विधानचंद्र सिंह भी मौजूद थे। उन्होंने अस्पताल में गंदगी और कमियों पर नाराजगी जताई। साथ ही उन्होंने ऑक्सीजन प्लांट और हर वार्ड का निरीक्षण किया और मरीजों के साथ भी बातचीत की। इसके बाद उन्होंने सीएस विधानचंद्र सिंह को कई आवश्यक निर्देश दिए और कहा कि अस्पताल की व्यवस्था में जल्द सुधार किया जाए।

सीटी स्कैन और अल्ट्रासाउंड में जनरेटर नहीं होने को लेकर उन्होंने बताया कि जल्द ही इसकी व्यवस्था करा कर एक सप्ताह के अंदर इसे जनरेटर युक्त किया जाएगा। ताकि कोई भी परेशानी मरीजों को ना झेलनी पड़े।

कटिहार के राजेंद्र स्टेडियम में भाजपा का गरीब कल्याण जनसभा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की आठ साल की उपलब्धि को लोगों तक पहुंचाने के लिए भाजपा की तरफ से कटिहार के राजेंद्र स्टेडियम में गरीब कल्याण जनसभा का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में बिहार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद समेत बीजेपी के कई नेताओं ने शिरकत की। इस दौरान भाजपा नेताओं ने 8 साल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल की उपलब्धियों को जनता के बीच रखा।


सिलीगुड़ी पंचायत चुनाव: लाल, हरा व गेरुआ पार्टी की इज्जत का सवाल

प्रदर्शन के लिए 60 घण्टे में बनाया बांस और ड्रम का पुल


- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article