Main Media

Seemanchal News, Kishanganj News, Katihar News, Araria News, Purnea News in Hindi

Support Us

Supaul Lok Sabha Result 2024: 1,69,803 मतों से जीते दिलेश्वर कामत

सुपौल संसदीय क्षेत्र से जदयू के दिलेश्वर कामत लोकसभा चुनाव जीत गए हैं। उन्होंने जदयू के चंद्रहास चौपाल को 169803 मतों से शिकस्त दी है। राजद के बाग़ी बैद्यनाथ मेहता 51652 वोट लोकर…

सुपौल: थानेदार कह रहे थाने में बिना घूस दिए कोई काम नहीं होता, वीडियो वायरल

थानाध्यक्ष संजय दास पूरे मामले पर कहते हैं कि बुधवार को ही थाने में केस दर्ज हो गया है। पता नहीं किस महिला ने वीडियो बनाया है। वहीं एसपी शैशव यादव ने कहा…

सुपौल लोकसभा चुनाव: चुनाव से दो दिन पहले प्रत्याशी कलीम खान का अपहरण कर पेड़ से लटकाने का आरोप

ग्रामीणों के मुताबिक 6 तारीख की सुबह 6 बजे कलीम खा को बेहोशी की हालत में देखा गया था। इसके बाद परिजनों ने उन्हें सुपौल सदर अस्पताल में ईलाज के लिए एडमिट कराया।…

अगले साल के अंत तक हम दस लाख नौकरी पूरा कर देंगे: सुपौल में बोले नीतीश कुमार

नीतीश कुमार ने कहा कि उन लोगों ने पिछले विधानसभा चुनाव के समय ही वादा किया था कि 10 लाख युवाओं को नौकरी देंगे, जिसमें करीब 5 लाख नौकरी दी जा चुकी है…

Supaul Lok Sabha Seat: क्या चल पाएगा राजद का दलित कार्ड या फिर जीतेंगे जदयू के दिलेश्वर कामत?

2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में सुपौल लोकसभा क्षेत्र में एनडीए (जदयू+भाजपा) गठबंधन पहले नंबर पर और महागठबंधन (राजद+कांग्रेस+लेफ्ट) दूसरे नंबर पर था। सुपौल में एनडीए गठबंधन को 5,14,822 और महागठबंधन को 4,05,463…

सुपौल की सामान्य सीट से दलित उम्मीदवार लगा पाएगा राजद का बेड़ा पार?

चंद्रहास चौपाल वर्तमान में सिंघेश्वर विधानसभा से विधायक हैं। 2020 के विधानसभा चुनाव से पहले चंद्रहास चौपाल भाजपा में थे। इस विधानसभा चुनाव में सिंहेश्वर सुरक्षित विधानसभा सीट जदयू के खाते में गई…

सुपौल: देश के पूर्व रेल मंत्री और बिहार के मुख्यमंत्री के गांव में विकास क्यों नहीं पहुंच पा रहा?

बिहार के सुपौल जिले का एक परिवार जिसके सदस्य केंद्रीय मंत्री, मुख्यमंत्री, राज्य सरकार में मंत्री, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष, सांसद और विधायक बने, सुपौल के लोग इस परिवार को बलुआ बाजार परिवार…

सुपौल: स्कूल की छत से गिरकर छात्र की मौत

मृतक छात्र के साथ खेलने वाले एक बच्चे ने भी इस घटना के बारे में जानकारी दी। बच्चे ने कहा, “मैं और वो (मृतक छात्र) विद्यालय की छत पर एक साथ खेल रहे…

सुपौल पुल हादसे पर ग्राउंड रिपोर्ट – ‘पलटू राम का पुल भी पलट रहा है’

मामले को लेकर सुपौल की जिलाधिकारी कौशल कुमार ने बताया कि इस घटना में जितने भी लोग प्रभावित थे वे सभी सुरक्षित हैं, सिर्फ एक की मौत हुई है। उन्होंने कहा कि अभी…

सुपौल: लठमार और कुर्ता फाड़ नहीं, फूलों से होली खेलते हैं यहां सभी धर्मों के बुजुर्ग

अक्षय वट वृक्ष बुजुर्ग संघ के बांके मंडल कहते हैं, "हर साल हमारे इलाके में बाढ़ आती है, जिससे हमारा पूरा इलाका प्रभावित होता है। ऐसे वक्त में हेल्पेज इंडिया रिलीफ के साथ…

सुपौल में कोसी नदी पर भेजा-बकौर निर्माणाधीन पुल गिरने से एक की मौत और नौ घायल, जांच का आदेश

सुपौल के जिलाधिकारी कौशल कुमार ने बताया कि सुबह जानकारी मिली कि निर्माणाधीन भेजा-बकौर पुल का एक हिस्सा नीचे गिर गया है। अब तक मिली सूचना के मुताबिक इस घटना में नौ लोग…

सुपौल: घूरन गांव में अचानक क्यों तेज हो गई है तबाही की आग?

पछुआ मौसम के शुरुआती दौर में ही आग ने सुपौल में गांवों में अपना रौद्र रूप दिखाना शुरू कर दिया है। स्थानीय न्यूज के मुताबिक 3 जनवरी 2024 को सुपौल की बैरिया पंचायत…

अररिया, मधेपुरा व सुपौल समेत बिहार के 33 रेलवे स्टेशनों का होगा कायाकल्प

प्रधानमंत्री द्वारा सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किए गए रेलवे से संबंधित योजनाओं के शिलान्यास और उद्घाटन कार्यक्रम में पटना से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उप मुख्यमंत्री सम्राट चौधरी और…

कोसी की समस्याओं को लेकर सुपौल से पटना तक निकाली गई पदयात्रा

कोसी नव निर्माण मंच ने बीते 30 जनवरी को सुपौल के बैरिया मंच से सत्याग्रह पदयात्रा की शुरुआत की जिसमें दर्जनों लोग ढाई सौ किलोमीटर पैदल चलकर राजधानी पटना पहुंचेंगे।

सुपौल: प्रचार प्रसार के अभाव में आश्रय स्थल नहीं पहुंच पा रहे जरूरतमंद

आश्रय स्थल में आने वाले लोगों को एंट्री करनी पड़ती है। एंट्री करने वाली कॉपी में लिखे नाम के मुताबिक, 9 जनवरी को 6, 10 जनवरी को 13 और 11 जनवरी को 12…

Latest Posts

Ground Report

किशनगंज के इस गांव में बढ़ रही दिव्यांग बच्चों की तादाद

बिहार-बंगाल सीमा पर वर्षों से पुल का इंतज़ार, चचरी भरोसे रायगंज-बारसोई

अररिया में पुल न बनने पर ग्रामीण बोले, “सांसद कहते हैं अल्पसंख्यकों के गांव का पुल नहीं बनाएंगे”

किशनगंज: दशकों से पुल के इंतज़ार में जन प्रतिनिधियों से मायूस ग्रामीण

मूल सुविधाओं से वंचित सहरसा का गाँव, वोटिंग का किया बहिष्कार