Main Media

Seemanchal News, Kishanganj News, Katihar News, Araria News, Purnea News in Hindi

Support Us

IMPACT: 15 मार्च को हुई BPSC के तीसरे चरण की शिक्षक भर्ती परीक्षा रद्द

आयोग ने आर्थिक अपराध इकाई से पत्र के माध्यम से ठोस सबूत की माँग की थी। इसके उत्तर में ईओयू ने पत्राचार के माध्यम से सूचना दी कि अनुसंधान के क्रम में किसी भी प्रकार की सूचना व मुहरबंद इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस किसी कार्यालय या इकाई के साथ नियमानुसार साझा नहीं किया जा सकता है।

Nawazish Purnea Reported By Nawazish Alam |
Published On :

बिहार लोक सेवा आयोग ने शिक्षक भर्ती परीक्षा के तीसरे चरण में 15 फरवरी को दोनों पालियों की परीक्षा रद्द कर दी है। परीक्षा से पहले ही प्रश्न पत्र लीक हो जाने के कारण आयोग द्वारा ये परीक्षाएं रद्द की गई हैं। इस संबंध में आयोग ने प्रेस रिलीज जारी किया है।

दरअसल, बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) ने आयोग को जानकारी दी थी कि प्रश्न-पत्र परीक्षा के पूर्व ही संगठित गिरोह के पास पहुँच गये थे। इस संबंध में आर्थिक अपराध इकाई द्वारा आरोपियों के विरुद्ध विभिन्न धाराओं के तहत मुक़दमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

Also Read Story

किशनगंज: बगलबाड़ी-मसना बस्ती में नाबालिग से बलात्कार व हत्या का नामजद आरोपी गिरफ्तार

असर: ‘मैं मीडिया’ की खबर वायरल होने के बाद बंगाल के स्कूल में पहली मंज़िल पर चढ़ने के लिए बनायी गयी सीढ़ी

खबर का असर: जर्जर हो चुके किशनगंज के राजकीय कन्या मध्य विद्यालय में भवन निर्माण शुरू

BPSC TRE-2: उर्दू-बांग्ला अभ्यर्थियों के लिये आया बड़ा अपडेट, पास होने के लिये इतने नंबर जरूरी

‘मैं मीडिया’ की खबर के बाद BPSC सचिव से मिले राजद MLC – “उर्दू-बंग्ला अभ्यर्थियों के लिये क्वालीफ़ाईंग पेपर बाधा नहीं होगा”

IMPACT: “BPSC TRE-2 के भाषा (अहर्ता) पेपर में गैर-हिंदी (उर्दू-बंगला) उम्मीदवारों को चिंता करने की जरूरत नहीं”

खबर का असर: किशनगंज के मदीना मार्किट के पास पड़े कूड़ों की सफाई शुरू

IMPACT: आयु सीमा में छूट विकल्प को लेकर अभ्यर्थियों को फॉर्म एडिट करने की आवश्यकता नहीं

IMPACT: किशनगंज की मुख्य सड़क पश्चिम पल्ली-मारवाड़ी कॉलेज रोड की मरम्मत शुरू

आयोग ने आर्थिक अपराध इकाई से पत्र के माध्यम से ठोस सबूत की माँग की थी। इसके उत्तर में ईओयू ने पत्राचार के माध्यम से सूचना दी कि अनुसंधान के क्रम में किसी भी प्रकार की सूचना व मुहरबंद इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस किसी कार्यालय या इकाई के साथ नियमानुसार साझा नहीं किया जा सकता है।


आर्थिक अपराध इकाई द्वारा दर्ज की गयी प्राथमिकी में परीक्षा पूर्व ही प्रश्न-पत्र लीक होने का उल्लेख किया गया है और इसी के मद्देनजर ये परीक्षाएं रद्द की गई हैं।

आयोग ने बताया कि तीसरे चरण की रद्द परीक्षाओं को पुनः आयोजित करने की तिथि बाद में घोषित की जायेगी। बताते चलें कि शिक्षक भर्ती परीक्षा के तीसरे चरण की परीक्षा 15 मार्च को दो पालियों में आयोजित की गई थी।

मैं मीडिया ने भी 15 मार्च की परीक्षा में शामिल शिक्षक अभ्यर्थियों से बात कर “BPSC TRE-3 की 15 मार्च की परीक्षा रद्द करने की मांग तेज़, रद्द नहीं हुई परीक्षा तो कट-ऑफ बहुत हाई होगा” शीर्षक से इस पर विस्तृत ख़बर प्रकाशित की थी। यह ख़बर सोशल मीडिया साइट एक्स पर बहुत अधिक शेयर की गई थी।

सीमांचल की ज़मीनी ख़बरें सामने लाने में सहभागी बनें। ‘मैं मीडिया’ की सदस्यता लेने के लिए Support Us बटन पर क्लिक करें।

Support Us

नवाजिश आलम को बिहार की राजनीति, शिक्षा जगत और इतिहास से संबधित खबरों में गहरी रूचि है। वह बिहार के रहने वाले हैं। उन्होंने नई दिल्ली स्थित जामिया मिल्लिया इस्लामिया के मास कम्यूनिकेशन तथा रिसर्च सेंटर से मास्टर्स इन कंवर्ज़ेन्ट जर्नलिज़्म और जामिया मिल्लिया से ही बैचलर इन मास मीडिया की पढ़ाई की है।

Related News

IMPACT: बहादुरगंज के समेश्वर उप-स्वास्थ्य केंद्र की हुई मरम्मत, सप्ताह मे तीन दिन बैठने लगे डॉक्टर

अररिया: पत्रकार विमल यादव हत्याकांड का मुख्य साजिशकर्ता रूपेश पुलिस रिमांड में

IMPACT: पोठिया के आमबाड़ी में बनेगी 3 किलोमीटर लंबी सड़क

मदरसा अज़ीज़िया के पुनर्निर्माण के लिए बिहार सरकार देगी 30 करोड़ रुपए

जलजमाव पर ख़बर प्रसारित होने के दूसरे दिन ही सड़क की मरम्मत शुरू

किशनगंज: अपहृत डीलर तमीजुद्दीन सकुशल बरामद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Posts

Ground Report

सुपौल: देश के पूर्व रेल मंत्री और बिहार के मुख्यमंत्री के गांव में विकास क्यों नहीं पहुंच पा रहा?

सुपौल पुल हादसे पर ग्राउंड रिपोर्ट – ‘पलटू राम का पुल भी पलट रहा है’

बीपी मंडल के गांव के दलितों तक कब पहुंचेगा सामाजिक न्याय?

सुपौल: घूरन गांव में अचानक क्यों तेज हो गई है तबाही की आग?

क़र्ज़, जुआ या गरीबी: कटिहार में एक पिता ने अपने तीनों बच्चों को क्यों जला कर मार डाला