भारत और नेपाल के बीच तल्ख़ रिश्ते का खमियाजा फिर एक बार बिहार के ग्रामीणों को भुगतना पड़ा है।

किशनगंज ज़िले के टेढ़ागाछ प्रखंड अंतर्गत फतेहपुर स्थित इंडो-नेपाल सीमा पर शनिवार की रात नेपाल पुलिस ने तीन भारतीय नागरिकों पर फायरिंग कर दी। जिसमें एक युवक घायल हो गया। घायल युवक जितेंद्र को अनन फानन में इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र टेढ़ागाछ लाया गया। फिर उसे बेहतर इलाज के लिए पूर्णिया भेज दिया गया।

किशनगंज SP ने घटना की पुष्टि न्यूज़ एजेंसी ANI से की है।

जानकारी के अनुसार 25 वर्षीय जितेंद्र एवं उसके दो साथी अंकित व गुलशन लगभग साढ़े सात बजे अपनी मवेशी ढूंढने गाँव से बाहर खेत के तरफ गए थे, जहां सीमा पर तैनात नेपाल पुलिस ने इन युवकों पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी, जिसमें जितेंद्र कुमार सिंह को गोली लग गयी। घायल युवक जितेंद्र को उसके दोनों साथी एवं स्थानीय ग्रामीण घटना स्थल से उठाकर उसके घर ले गए।

नेपाल पुलिस द्वारा चलाई गई गोली जितेंद्र सिंह के कंधे में लगी है, उसका इलाज फिलहाल पूर्णिया के एक निजी अस्पताल में चल रहा है। आज अस्पताल में कुछ वरीय अधिकारी आये, लेकिन केमरा पर कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया।

जितेन्द्र के बड़े भाई रंजीत की माने तो उस इलाके में ऐसा पहली बार हुआ है, स्थनीय लोग ऐसा विवाद नहीं चाहते हैं।