मनोज वाजपेयी और अनुभव सिन्हा का नया भोजपुरी गाना ‘बंबई में का बा’ खूब फेमस हुआ। लोगों ने इस गाने को बहुत सुना। अपने कंटेंट के कारण ये भोजपुरी रैप सांग एक तरह से केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार से लेकर बिहार की नीतीश कुमार सरकार तक के विरोध में यूज भी हुआ। वहीं इसी गाने के तर्ज पर नेहा राठौड़ द्वारा भी एक रैप सांग गाया गया। जिसका नाम था बिहार में का बा। इस गाने के ​जरिए नेहा ने बिहार में सरकार की नाकामियों को जमकर उजागर किया था।

ऐसे में अब बीजेपी की ओर से इस गाने के जवाब में एक गाना लाया गया है। यह गाना मुख्य रुप से बिहार चुनाव को ध्यान में रखकर लाया गया है। इस गाने के बोल हैं ‘बिहार में ई बा’। यानि बीजेपी इस गाने के जरिए जनता के बीच यह मैसेज देना चाहती है कि बिहार के 15 साल के नीतीश कुमार के शासन में बहुत कुछ बदला है।

बीजेपी ने अपने टि्वटर हैंडल पर इस गाने को पोस्ट किया है। बंबई में का बा की तरह ही बिहार में ई बा लोगों को खूब रास आ रहा है। 2 मिनट 35 सेकेंड के इस गाने में बीजेपी की ओर से 15 साल के एनडीए शासन काल में बिहार में हुए एक एक बदलाव के बारे में बताया गया है।

दरअसल नेहा राठौड़ द्वारा गाए गए एक रैप आधारित सॉन्ग जिसमें बिहार की व्यवस्था समेत अन्य चीजों को दिखाया गया था और वर्तमान की व्यवस्थाओं पर तंज कसा गया था के जवाब में बीजेपी ने यह कदम उठाया है. नेहा के इस वीडियो को जहां यूट्यूब समेत अन्य सोशल साइट्स पर अच्छे व्यूज मिले थे तो वहीं बीजेपी ने भी अब ‘बिहार में ई बा’ के इस एजेंडे के माध्यम से ही अपने विरोधियों को भी जवाब देने की पुरजोर कोशिश की है।