Friday, August 19, 2022
- Advertisement -spot_img

TAG

Bihar Flood

दल्लेगांव: यहां लाशों को भी मुक्ति के लिए नदी पार करना पड़ता है

देश की आजादी के 70 साल से ज्यादा वक्त गुजर चुका है। इन 70 सालों में कितनी ही सरकारें आईं और चली गईं। इन...

बिहार के एक गाँव की गुहार, हमारा घर बचा लो सरकार

किशनगंज सहित सीमांचल और कोशी क्षेत्र में रहनेवाले लोग हर साल बाढ़ की त्रासदी झेलते हैं। तमाम दावों के बावजूद तमाम व्यवस्थायें और उम्म्मीदेँ प्रत्येक वर्ष ध्वस्त हो जाती हैं।

दरभंगा में जुगाड़ नाव पर अस्पताल पहुंचाई गई गर्भवती

दरभंगा में एक गर्भवती महिला को अचानक पेट में दर्द शुरू हुआ, दर्द से महिला का बुरा हाल हो रहा था लेकिन पूरा गांव पानी में डूबा हुआ है। ऐसे में ग्रामीणों ने ट्यूब से एक जुगाड़ नाव बनाई और महिला और उसकी माँ को बिठाकर अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने उसका इलाज किया।

बिहार: मुख्य सड़क के क़रीब बसे इस टापूनुमा गाँव को नाव तक नसीब नहीं

बिहार में बाढ़ अभी नहीं आयी है। लेकिन, बारिश के पानी से ही जगह-जगह बाढ़ जैसे हालात हैं। ये पूर्णिया ज़िले में नेशनल हाईवे...

पूर्णिया: मानसून की पहली बारिश में ही कटाव का दंश झेलने पर मजबूर बायसी

जल आपदा के आदी हो चुके पूर्णिया ज़िले के बायसी अनुमंडल की जनता मानसून की पहली बारिश में कटाव का दंश झेलने पर मजबूर है। सात नदियों से घिरे बायसी में महानंदा, परमान और कनकई नदी के कटाव ने कई गांवों पर अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है।

Latest news

- Advertisement -spot_img