भारत-नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी के 12वीं बटालियन सी कम्पनी के जवानों ने शनिवार को मोहमारी में ग्रामीणों के साथ एक समन्वय बैठक की। ग्रामीणों के साथ एसएसबी मोहमारी में प्रभारी इंस्पेक्टर पुष्प राज सिंह की अध्यक्षता में बैठक की गई, जिसमें बाॅर्डर से संबंधित समस्याओं पर विचार विमर्श करते हुए उसके समाधान का प्रस्ताव भी लिया।

भारत-नेपाल सीमा पर तैनात SSB जवानों ने ग्रामीणों के साथ किया समन्वय बैठक

बैठक को संबोधित करते हुए कमांडेंट ने कहा कि एसएसबी सीमा की सुरक्षा के साथ-साथ सीमावर्ती क्षेत्र के लोगों के विकास के लिए संकल्पित है। सीमा पर राष्ट्र विरोधी गतिविधियों पर अंकुश लगाने में सीमावर्ती गांव के लोग ही जवानों के आंख और कान हैं। इसलिए अपने आसपास गांव में कोई भी संदिग्ध व्यक्ति दिखे तो तुरंत इसकी सूचना नजदीक कैंप को दें, ताकि समय रहते सीमा पर असमाजिक गतिविधियों व तस्करों पर अंकुश लगाया जा सके। ग्रामीणों के अपेक्षित सहयोग से ही हमारे जवान अपनी ड्यूटी पूरी तन्मयता से करेंगे, कहीं से भी कोई सूचना मिले तो हमारे एसएसबी के अधिकारी को दें। समय रहते उस सूचना पर कार्रवाई की जायेगी। ग्रामीण लोग भी बिना वर्दी के सिपाही है।

साथ ही बैठक में अपने आस पड़ोस को स्वच्छ रखने एवं सफाई पर विशेष ध्यान देने की बात कहीं। मौके पर ललित कुमार के साथ कंपनी प्रभारी इंस्पेक्टर पुष्प राज सिंह, मुखिया धर्मलाल टुडू, देव नाथ सिंह, पवन कुमार एवं अन्य लोग शामिल थे।