बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद को कौन नहीं जानता, कोरोना काल में प्रवासी मजदूरों के लिए कोई मसीहा बनकर सामने आया तो वो थे एक्टर सोनू सूद। लेकिन सोनू की दरियादिली यहीं नहीं रूकी। प्रवासी मजदूरों के बाद अब सोनू देश के हर कोने में मुश्किल में फंसे लोगों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं। इसी कड़ी में सोनू एक बार फिर बिहार के एक परिवार के लिए फरिश्ता बने हैं। दरअसल सोनू ने आरा की एक बीमार बच्ची की मदद की है। छात्रा की बहन के एक पोस्ट पर सोनू को शुक्रिया कहा है और कहा है कि आपके कारण ही मेरी बहन को नई जिंदगी मिली है।

दरअसल, नवादा थाना के कर्मन टोला मोहल्ले की नेहा ने एक सितंबर को सोनू सूद को ट्विटर पर टैग कर लिखा था कि उसकी बहन दिव्या सहाय उर्फ़ चुलबुल की तबियत बहुत खराब है और उसे एक ऑपरेशन की सख्त जरूरत है। छात्रा ने अपने ट्वीट में लिखा कि लॉकडाउन की वजह से दिल्ली एम्स में मिली तारीख पर सर्जरी नहीं हो पाई। उसने सोनू सूद से आग्रह किया कि किसी तरह से एम्स में सर्जरी की तारीख दिलवा दें और कुछ नही चाहिए।

नेहा के ट्वीट पर सोनू सूद ने रिप्लाई करते हुए पांच सितम्बर को लिखा कि आपकी बहन हमारी बहन है, उनका अस्पताल में इंतजाम करवा दिया गया है। उन्हें ठीक करवाने का ज़िम्मा मेरा। आखिर में सोनू सूद की पहल पर ऋषिकेश के एम्स में दिव्या सहाय का HYPOECHOIC MASS IN PANCREAS (पेट दर्द) की सफल सर्जरी हुई। सर्जरी के बाद दिव्या सहाय स्वस्थ है और ऋषिकेश के एम्स में अभी भी उनका सर्जरी के बाद का इलाज़ चल रहा है।

सोनू सूद द्वारा दिव्या सहाय की सफल सर्जरी के बाद उसकी बहन नेहा और पूरा परिवार सोनू सूद को धन्यवाद दे रहा है। नेहा ने सोनू सूद को टैग करते हुए ट्विटर पर एक वीडियो डाला है जिसमें उसने सोनू सूद को मदद के लिए धन्यवाद दिया। नेहा ने ऋषिकेश एम्स के सभी डॉक्टर एवं स्टाफ के व्यवहार की भी तारीफ़ की। उन्होंने कहा है 31 मार्च से ही पूरा परिवार परेशान था कि उसकी बहन की सर्जरी हो पाएगी की नहीं पर सोनू सूद की वजह से सफल सर्जरी हो पाई और उसकी बहन का भविष्य सुरक्षित को सका।

 

नेहा की बहन दिव्या सहाय ने ऑपरेशन थिएटर में जाने से पहने कहा कि “सोनू सर एक जिन्नी हैं, उनसे कुछ भी मांगों मिल जाता है। उनकी इतनी बड़ी मदद को वो और उसका परिवार कभी नहीं भूलेगा”।

आपको बता दें कि हाल के दिनों में सोनू सूद जरूरतमंदों के लिए मसीहा बनकर उभरे हैं। देश में अगर कोई दिक्कत या परेशानी में हैं तो उसके लिए सोनू हर मर्ज की दवा हैं। आम लोगों के मन में यह विश्वास बना है कि कोई उनकी मदद करे या न करे सोनू सूद करेंगे।