Main Media

Seemanchal News, Kishanganj News, Katihar News, Araria News, Purnea News in Hindi

Support Us

कटिहार में महादलितों के लिए बनी आवासीय अंबेडकर कॉलोनी जर्जर

कटिहार नगर निगम क्षेत्र के वार्ड नंबर 25 में स्थित अंबेडकर कॉलोनी की स्थिति पूरी तरह से जर्जर हो चुकी है और यहां लोग जान जोखिम में डालकर रहने को मजबूर हैं।

shadab alam Reported By Shadab Alam | Katihar |
Published On :

बिहार में महादलितों पर तो खूब राजनीति होती है, लेकिन महादलितों की सुध लेने वाला कोई नहीं है। इसका जीता जागता उदाहरण कटिहार में देखने को मिलता है। कटिहार नगर निगम क्षेत्र के वार्ड नंबर 25 में स्थित अंबेडकर कॉलोनी की स्थिति पूरी तरह से जर्जर हो चुकी है और यहां लोग जान जोखिम में डालकर रहने को मजबूर हैं।

अंबेडकर काॅलोनी का निर्माण 5 जनवरी 2000 को तत्कालीन मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने गंदी बस्ती विकास योजनांतर्गत करवाया था। यहाँ 350 कमरों का निर्माण करवाया गया था। 20 सालों में यह कॉलोनी जर्जर हो चुकी है, लेकिन इसकी मरम्मत नहीं हो रही है। हालात तो यह है कि कालोनी की छत टूट टूट कर गिर रही है, जो कभी भी बड़े हादसे का कारण बन सकती है।


स्थानीय माहिलाएं कहती हैं कि काॅलोनी के बने 20 साल गुजर चुके हैं, और इलाके की आबादी बढ़ जाने से लोग बाथरूम को अब कमरे के रूप में इस्तेमाल करने लगे हैं। वहीं शौचालय नहीं होने से लोग अभी भी खुले में शौच करने को मजबूर हैं, जिससे लोगों में स्थानीय प्रतिनिधियों के खिलाफ काफी आक्रोश है।

बिहार में इन दिनों नगर निकाय चुनाव चल रहे हैं और दूसरे चरण में 28 दिसंबर को कटिहार नगर निगम के 45 वार्ड पार्षद सहित मेयर और डिप्टी मेयर के पद के लिए मतदान होना है। वार्ड नंबर 25 में स्थित अंबेडकर कालोनी के लोग आस लगाए हुए हैं कि इस बार जो प्रतिनिधि चुनकर आएंगे वो उनकी कालोनी का विकास करेंगे। इसी उम्मीद में लोग इस बार भी मतदान करने की तैयारी में हैं। हालांकि सांसद विधायक से इन्हें अब तक निराशा ही हाथ लगी है।

Also Read Story

6 साल पहले हुआ शिलान्यास, पर आज तक नहीं बन पाई सड़क

खराब सड़क इस गांव की शिक्षा, स्वास्थ्य और खेती पर डाल रही बुरा असर

दार्जिलिंग: भूस्खलन से बर्बाद सड़क की नहीं हुई मरम्मत, चाय बागान श्रमिक परेशान

सहरसा के इस गांव में नल-जल का हाल बुरा, साफ पानी को तरसते लोग

जर्जर स्कूल की नहीं हुई अब तक मरम्मत, बच्चों की पढ़ाई ठप

एनएच पर अंडरपास व आरओबी के लिए केन्द्रीय मंत्री से मिले पूर्व डिप्टी सीएम

बारसोई के सुधानी नदी पर बनेगा उच्चस्तरीय पुल, सांसद और विधायक ने किया शिलान्यास

शिवहर व अरवल जिले में नहीं है कोई रेलवे स्टेशन, लोग होते हैं परेशान

फारबिसगंज सहरसा रेलखंड पर 14 साल बाद ट्रेन चलने की उम्मीद

सीमांचल की ज़मीनी ख़बरें सामने लाने में सहभागी बनें। ‘मैं मीडिया’ की सदस्यता लेने के लिए Support Us बटन पर क्लिक करें।

Support Us

सय्यद शादाब आलम बिहार के कटिहार ज़िले से पत्रकार हैं।

Related News

ऐतिहासिक खगड़ा मेला के लिए अब तक नहीं मिला एक भी ठेकेदार

चार साल में भी नहीं बन पाया महादलितों के लिए सामुदायिक शौचालय

वंदे भारत एक्सप्रेस का किशनगंज स्टेशन पर ठहराव नहीं

दार्जिलिंग: गांवों की सड़क खस्ताहाल, दशकों से नहीं हुई मरम्मत

बारसोई में अगलगी की घटनाओं में दमकल से नहीं मिलती मदद

कटिहार: बलिया बेलौन को प्रखंड बनाने की विभागीय प्रक्रिया शुरू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latests Posts

Ground Report

जर्जर भवन में जान हथेली पर रखकर पढ़ते हैं कदवा के नौनिहाल

ग्राउंड रिपोर्ट: इस दलित बस्ती के आधे लोगों को सरकारी राशन का इंतजार

डीलरों की हड़ताल से राशन लाभुकों को नहीं मिल रहा अनाज

बिहार में क्यों हो रही खाद की किल्लत?

किशनगंज: पक्की सड़क के अभाव में नारकीय जीवन जी रहे बरचौंदी के लोग