Main Media

Seemanchal News, Kishanganj News, Katihar News, Araria News, Purnea News in Hindi

Support Us

Bihar Teacher Niyamawali 2023: नई शिक्षक नियमावली को लेकर विरोध प्रदर्शन

बिहार में नई शिक्षक नियुक्ति नियमावली पर कैबिनेट की मुहर लगने पर अभ्यर्थियों का गुस्सा फूट पड़ा है। नियमावली को लेकर STET पास अभ्यर्थियों ने राजद कार्यलय के बाहर जमकर प्रदर्शन किया। अभ्यर्थियों के अनुसार नई नियमावली एक काला कानून है।

Navin Kumar Reported By Navin Kumar |
Published On :

बिहार में नई शिक्षक नियुक्ति नियमावली पर कैबिनेट की मुहर लगने पर अभ्यर्थियों का गुस्सा फूट पड़ा है। नियमावली को लेकर STET पास अभ्यर्थियों ने राजद कार्यलय के बाहर जमकर प्रदर्शन किया। अभ्यर्थियों के अनुसार नई नियमावली एक काला कानून है।

नई शिक्षक नियुक्ति नियमावली का विरोध कर रहे अभ्यर्थियों ने कहा कि यह बहाली उन्हें फंसाने के लिए की जा रही है। उन्होंने कहा कि 2019 में वे STET पास करके आए हैं, तो फिर दोबारा परीक्षा क्यों देंगे? “हमलोग चार साल से नौकरी की आस में बैठे हुए हैं। सरकार ने हमलोगों को ठगा है इसलिए विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं,” उन्होंने कहा।

Also Read Story

स्कूलों के नये टाइम-टेबल को बदलने की मांग कर रहे बिहार के शिक्षक, चलाया ट्विटर ट्रेंड #ReviseSchoolTime

CBSE ने जारी किया 10वीं का रिज़ल्ट, 93.6% छात्र सफल, पिछले साल से बेहतर रिज़ल्ट

BPSC हेडमास्टर पदों के लिये आयु सीमा में छूट मिलने वाले अभ्यर्थियों का 11 मई से आवेदन

BSEB सक्षमता परीक्षा के आवेदन की अंतिम तिथि बढ़ी, कॉमर्स को वैकल्पिक विषय समूह में किया शामिल

अदालत ने ही दी नौकरी, अदालत ने ही ली नौकरी, अब क्या करे अनामिका?

सक्षमता परीक्षा-2 के लिये 26 अप्रैल से आवेदन, पहले चरण में सफल शिक्षक भी ले सकेंगे भाग

बिहार के स्कूलों में शुरू नहीं हुई मॉर्निंग शिफ्ट में पढ़ाई, ना बदला टाइम-टेबल, आपदा प्रबंधन विभाग ने भी दी थी सलाह

Bihar Board 10th के Topper पूर्णिया के लाल शिवांकर से मिलिए

मैट्रिक में 82.91% विधार्थी सफल, पूर्णिया के शिवांकार कुमार बने बिहार टॉपर

राजद कार्यलय के बाहर हजारों की संख्या में प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों ने नई नियमावली को वापस लेने की अपील की है।


शिक्षा मंत्री के आवास के बाहर प्रदर्शन कर रहे शिक्षक अभ्यर्थी अभिषेक झा ने कहा, “क्या हमलोग जिंदगी भर परीक्षा ही देते रहें?” उन्होंने नई नियमवाली को काला फरमान बताया और कहा कि नई नियमावली नौकरी नहीं देने वाली नियमावली है। इसके विरोध में कल पूरे पटना में पुरजोर प्रदर्शन किया जायेगा।

नई नियमवाली को लेकर अलग अलग प्रतिक्रिया

नई शिक्षक नियुक्ति नियमवाली पर भाजपा नेता और सांसद सुशील कुमार मोदी ने भी आपत्ति जताई है। सुशील मोदी ने ट्वीट किया, “नीतीश और तेजस्वी यादव की सरकार ने लाखों शिक्षक अभ्यर्थियों के साथ भद्दा मजाक किया है। नीतीश सरकार ने अभ्यर्थियों को ठगा है। 2019 में STET पास अभ्यर्थियों को तुरंत नियुक्ति पत्र देना चाहिए।” सीएम को घेरते हुए उन्होंने कहा कि क्या विद्यालयों में पुराने वेतनमान वाले, नियोजित शिक्षक और नई नियमावली के तहत बहाल शिक्षक यानी तीन तरह के शिक्षक होंगे?

दूसरी ओर, रोहतास की शिक्षक अभ्यर्थी सुप्रिया प्रीतम ने नई नियमावली पर सरकार को धन्यवाद दिया है। उन्होंने गाना गाकर नीतीश कुमार की तारीफ की है। उन्होंने सरकार से जल्द से जल्द विज्ञप्ति निकालने का अनुरोध किया है ताकि शिक्षक अभ्यर्थी रोड से बोर्ड पर पहुंच सके।

नियमावली का क्यों है विरोध

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक में बिहार राज्य विद्यालय अध्यापक (नियुक्ति, स्थानांतरण, अनुशासनिक कार्यवाई एवं सेवाशर्त) नियमावली, 2023 पर मुहर लगाई गई। नई नियुक्ति नियमवाली के पास होते ही शिक्षक अभ्यर्थियों के एक पक्ष ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। दरअसल, नियमवाली के अनुसार शिक्षक बहाली के लिए सरकार परीक्षा आयोजित करेगी। STET और CTET पास अभ्यर्थियों को भी परीक्षा की प्रक्रिया से गुजरना होगा। अभ्यर्थियों ने इसी नियम को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है। अभ्यर्थियों का तर्क है कि सरकार पहले ही STET-19 के माध्यम से परीक्षा ले चुकी है और मेरिट लिस्ट भी निकल चुका है फिर दोबारा परीक्षा आयोजित करना पूरी तरह अनुचित है।

सीमांचल की ज़मीनी ख़बरें सामने लाने में सहभागी बनें। ‘मैं मीडिया’ की सदस्यता लेने के लिए Support Us बटन पर क्लिक करें।

Support Us

नवीन कुमार बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के रहने वाले हूं। आईआईएमएससी दिल्ली से पत्रकारिता की पढ़ाई की है। अभी स्वतंत्र पत्रकारिता करते हैं। सामाजिक विषयों में रुचि है। बिहार को जानने और समझने की निरंतर कोशिश जारी है।

Related News

31 मार्च को आयेगा मैट्रिक परीक्षा का रिज़ल्ट, इस वेबसाइट पर होगा जारी

सक्षमता परीक्षा का रिज़ल्ट जारी, 93.39% शिक्षक सफल, ऐसे चेक करें रिज़ल्ट

बिहार के सरकारी स्कूलों में होली की नहीं मिली छुट्टी, बच्चे नदारद, शिक्षकों में मायूसी

अररिया की साक्षी कुमारी ने पूरे राज्य में प्राप्त किया चौथा रैंक

Bihar Board 12th Result: इंटर परीक्षा में 87.54% विद्यार्थी सफल, http://bsebinter.org/ पर चेक करें अपना रिज़ल्ट

BSEB Intermediate Result 2024: आज आएगा बिहार इंटरमीडिएट परीक्षा का परिणाम, छात्र ऐसे देखें अपने अंक

मधुबनी डीईओ राजेश कुमार निलंबित, काम में लापरवाही बरतने का आरोप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Posts

Ground Report

किशनगंज के इस गांव में बढ़ रही दिव्यांग बच्चों की तादाद

बिहार-बंगाल सीमा पर वर्षों से पुल का इंतज़ार, चचरी भरोसे रायगंज-बारसोई

अररिया में पुल न बनने पर ग्रामीण बोले, “सांसद कहते हैं अल्पसंख्यकों के गांव का पुल नहीं बनाएंगे”

किशनगंज: दशकों से पुल के इंतज़ार में जन प्रतिनिधियों से मायूस ग्रामीण

मूल सुविधाओं से वंचित सहरसा का गाँव, वोटिंग का किया बहिष्कार