आमतौर पर दशहरा में आज भी गांवों में खुले मैदान में परदे पर रामायण चलता है और लोग खुले आकाश के नीचे इसका आनंद लेते हैं। अंग्रेजी में कहे तो यह ओपेन सिनेमा है। मतलब आगे सिनेमा हॉल वाला बड़ा परदा होता है और दर्शकों के लिए खुले आसमान के नीचे बैठने की व्यवस्था।

कोरोना काल में दुनिया में कई जगहों पर ओपेन सिनेमा का कल्चर बढ़ा है। अब पटना में भी ऐसी ही व्यवस्था होने जा रही है। पटना के गांधी मैदान में अब दर्शक ओपेन सिनेमा का आनंद ले सकेंगे। पटनावासियों को गांधी मैदान में 75X42 फीट की मेगा स्क्रीन पर फिल्म देखने का अवसर मिलेगा।

बता दें कि इस स्क्रिन पर जो फिल्म चलाया जाएगा उसे करीब 5 हजार लोग एक साथ खुले मैदान में देख सकेंगे। यह मेगा स्क्रीन आज गांधी मैदान में पटना स्मार्ट सिटी के पहले प्रोजेक्ट के उद्घाटन के दौरान लगेगा। इस प्रोजेक्ट का उद्घाटन सीएम नीतीश कुमार करेंगे। गांधी मैदान में लगनेवाला यह मेगा स्क्रिन सिर्फ बिहार ही नहीं बल्कि पूरे भारत में पहला सबसे बड़ा स्क्रीन है यानि इसके जैसा पूरे इंडिया में कोई दूसरा फिलहाल नहीं है।

 

क्या है खासियत

गांधी मैदान में लगाए जा रहे इस मेगा स्क्रिन की खासियतों के बारे में बात करें तो जैसी जानकारी है उसके अनुसार यह पूरे देश में सिर्फ बिहार की राजधानी पटना में है, यानि पूरी कंट्री में सिर्फ वन पीस। यह पीवीसी सामग्री से बना फूल एचडी स्क्रिन है, मतलब पिक्चर क्वालिटी से नो कंप्रोमाइज। इसे 30 फीट की ऊंचाई पर ट्रस के माध्यम से लगाया गया है। यह स्क्रीन डोल्बी डिजिटल साउंड सिस्टम से लैस है जिसके कारण सूर्यास्त के बाद फिल्मों का प्रसारण असानी से हो सकेगा। इसे लगाने में कुल 6.98 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं।

आज उद्घाटन के बाद रोस्टर बनेगा और उसके अनुसार फिल्म, डॉक्यूमेंट्री, खेल आदि का प्रसारण होगा। इस स्क्रिन को कंट्रोल करने के लिए गेट नंबर 3 एवं 4 के पास कंट्रोल रूम बनाया गया हैं