Main Media

Seemanchal News, Kishanganj News, Katihar News, Araria News, Purnea News in Hindi

Support Us

कटिहार में अमरपाली एक्सप्रेस में लूट

कटिहार में दिल्ली से कटिहार तक आने वाली 15708 आम्रपाली एक्सप्रेस की एसएलआर बोगी को लुटेरों ने निशाना बनाया। घटना 23 दिसंबर की रात कटिहार के सोनपुर रेल डिवीजन की सीमा पर आउटर सिग्नल की है।

shadab alam Reported By Shadab Alam | Katihar |
Published On :

कटिहार में दिल्ली से कटिहार तक आने वाली 15708 आम्रपाली एक्सप्रेस की एसएलआर बोगी को लुटेरों ने निशाना बनाया। घटना 23 दिसंबर की रात कटिहार के सोनपुर रेल डिवीजन की सीमा पर आउटर सिग्नल की है।

ट्रेन के सिग्नल पर रुकते ही लुटेरों ने पार्सल एसएलआर बोगी का ताला तोड़ दिया। जिसके बाद आउटर सिग्नल पर ट्रैक्टर-टोटो और ऑटो लगाकर तीन लुटेरों ने बोगी का सारा माल लूट लिया। बताया जा रहा है कि दिल्ली से आ रही इस पार्सल बोगी में इलेक्ट्रॉनिक सामान के साथ कपड़े और कई कीमती सामानों के 8 बंडल लदे हुए थे।

स्थानीय निवासी गोविंद कुमार महलदार बताते हैं, “हम लोग सुबह जब उठे बाथरूम करने के लिए तो तो देखा कि आदमी लोग जा रहा था। हमने पूछा तो पता चला कि गाड़ी से सामान निकला हुआ है और लूट की घटना हुई है।”


ट्रेन से लूटे गए सामान के बारे में बताते हुए गोविंद ने कहा, “ट्रेन में शायद रेडियो का सामान था। कुछ टीवी वगैरह भी था और कुछ कपड़े थे।”

इस लूट की घटना के बाद अमरपाली एक्सप्रेस खाली पार्सल बोगी लेकर कटिहार स्टेशन पहुंची। इसको देख रेल पुलिस में खलबली मच गई, जिसके बाद नवगछिया रेल सुरक्षा बल पुलिस भी घटना की जांच में जुट गई। पुलिस द्वारा मौके से तीन बोरा सामान के साथ, लूट में शामिल रोहित कुमार नामक ऑटो चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Also Read Story

कटिहार: खेत से मिली 54 वर्षीय स्कूल गार्ड की लाश, जांच में जुटी पुलिस

सोने की तस्करी करते किशनगंज का व्यापारी दिनेश पारीक समेत तीन लोग गिरफ्तार

किशनगंज: पुलिस ने मवेशी तस्करों के गिरोह को पकड़ा, 8 वाहन समेत 22 गिरफ्तार

पश्चिम बंगाल: दंपति के हाथ-पांव बांध लाखों के गहने लूटकर 6 बदमाश फरार

पूर्णिया में साइबर ठगों ने व्यवसाई के बैंक खाते से उड़ाये साढ़े पांच लाख रुपये, एक महीने में दर्ज नहीं हुई एफआईआर

हथियार के बल पर बंधन बैंक कर्मी से 1.68 लाख रुपये की लूट

कटिहार के आजमनगर में भीषण डकैती, फायरिंग और बम धमाकों से दहला गांव

किशनगंज: पेड़ से लटका मिला 17 वर्षीय युवती का शव, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

ओडिशा से आया था नीरज पासवान हत्याकांड का शूटर, कटिहार एसपी ने और क्या क्या बताया

गिरफ्तार रोहित ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “ट्रेन का सामान पहले से गिरा हुआ था। वहां पहले से ही लूट कांड हो चुका था और बहुत सारे आदमी वहां से सामान लेकर जा रहे थे। हमने जैसे ही बांध से अपना ऑटो नीचे उतारा, हमें पब्लिक ने पकड़ कर पीटना शुरू कर दिया।” आगे रोहित ने बताया कि उसे पब्लिक नने ही पकड़ कर पुलिस के हवाले किया है।

जिनका सामान लूटा गया, उन्हीं में से एक व्यवसायी पप्पू महतो ने बताया कि उन्होंने दिल्ली से आम्रपाली एक्सप्रेस से 8 बंडल माल मंगाया था। उन्होंने आगे कहा, “हमें किसी आदमी ने बताया था कि हमारा माल चोरी हो गया है और कहीं पड़ा हुआ है। लेकिन, हमें कोई माल नहीं मिला। हमारा सारा ही माल एक साथ चोरी हो गया है। अब रेल प्रशासन ही हमारा माल लौटाएगा।”

इस बारे में रेल सुरक्षा बल नवगछिया जांच टीम के सब इंस्पेक्टर से जानकारी लेने की कोशिश की गई। लेकिन वह यह कहकर पीछा छुड़ाते नजर आए कि जो भी जानकारी होगी वह वरीय पुलिस पदाधिकारी की ओर से ही साझा की जाएगी।

सीमांचल की ज़मीनी ख़बरें सामने लाने में सहभागी बनें। ‘मैं मीडिया’ की सदस्यता लेने के लिए Support Us बटन पर क्लिक करें।

Support Us

सय्यद शादाब आलम बिहार के कटिहार ज़िले से पत्रकार हैं।

Related News

कटिहार: भाजपा विधायक कविता पासवान के भतीजे की गोली मारकर हत्या, एक गिरफ्तार

कटिहार: स्कूल की छत गिरने से दो मजदूरों की मौत

अरवल में मिनी गन फैक्ट्री का भंडाफोड़, 14 गिरफ्तार

अररिया: बेख़ौफ अपराधियों ने हथियार दिखाकर बैंक कर्मी से लूटे 12 लाख रुपये

कटिहार में पत्नी के कर्ज को लेकर विवाद में पति ने तीन बच्चों समेत खुद को लगाई आग

अररिया में मूर्ति विसर्जन से आता ट्रैक्टर कैसे हुआ दुर्घटना का शिकार?

अररिया में सरस्वती विसर्जन से लौटता ट्रैक्टर दुर्घटनाग्रस्त, चार लोगों की मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Posts

Ground Report

मूल सुविधाओं से वंचित सहरसा का गाँव, वोटिंग का किया बहिष्कार

सुपौल: देश के पूर्व रेल मंत्री और बिहार के मुख्यमंत्री के गांव में विकास क्यों नहीं पहुंच पा रहा?

सुपौल पुल हादसे पर ग्राउंड रिपोर्ट – ‘पलटू राम का पुल भी पलट रहा है’

बीपी मंडल के गांव के दलितों तक कब पहुंचेगा सामाजिक न्याय?

सुपौल: घूरन गांव में अचानक क्यों तेज हो गई है तबाही की आग?