बिहार के अररिया में भू-माफियाओं ने बुलडोजर लगाकर एक स्कूल भवन को ध्वस्त कर दिया। इससे भी ज़्यादा चौंकाने वाली बता ये है की ये स्कूल प्रशासन की नज़रों से दूर सुदूर किसी ग्रामीण इलाके में नहीं, बल्कि प्रखंड कार्यालय और एसडीओ आवास के ठीक सामने है।

नीतीश राज में अपराधियों की इस मनोबल की आपको तारीफ़ करनी पड़ेगी। जब 2021 वाले बिहार में अपराधी इतना हिम्मत करने लगें तो इसे जंगलराज कहना कम आंकना होगा।

मामला फारबिसगंज के मध्य विद्यालय कर्बला धत्ता का है। सोमवार की रात जब प्रशासन चैन की नीदं सो रहा था, उनके नाम के ठीक नीचे रात के अंधेरे में भू-माफियाओं ने स्कूल को ध्वस्त कर दिया।

सुबह के वक्त जब लोगों ने स्कूल को मलवे के रूप में देखा तो उनका गुस्सा फुट पड़ा और भू माफिया पर कार्रवाई की मांग करने लगे। वहीं घटनास्थल पर पहुंचे एसडीओ को भी लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा।

इधर मामले की सूचना जिला पदाधिकारी को मिलने के बाद 5 सदस्य टीम गठित कर मामले का जांच कराया जा रहा है। मंगलवार को स्थल निरीक्षण करने अररिया एडीएम पहुंचे और आसपास के लोगों से मामले की जानकारी ली है।