Sunday, June 26, 2022

किशनगंज के मदरसे में बच्चे का यौन शोषण, हेड मौलवी पर आरोप

Must read

Main Mediahttps://mainmedia.in
This story has been done by collective effort of Main Media Team.

बिहार के किशनगंज जिले के बहादुरगंज थाना क्षेत्र में स्थित एक मदरसे के नाजिम, तत्कालीन हेड मौलवी पर 12 साल के एक किशोर का यौन शोषण करने का आरोप लगा है।

पीड़ित बच्चे के पिता की तरफ से बहादुरगंज थाने में 5 दिसम्बर को दिये गये आवेदन के मुताबिक, 20 नवंबर की रात करीब 11 बजे नाजिम अबु कलाम नूरी ने उक्त बच्चे को अपने साथ अपने कमरे में सुलाया और उसी दौरान देर रात उसका यौन शोषण किया। दर्द से बच्चा चीखने लगा, तो आरोपित ने उसका मुंह दबा दिया।

किशोर पिछले तीन साल से बहादुरगंज थाना क्षेत्र के एलआरपी चौक स्थित मदरसा नूरी यतीमखाना में पढ़ रहा था और वहीं रहता था। उसके पिता गरीब हैं।

आवेदन में उसके पिता लिखते हैं,

“अगले दिन सुबह जब मेरा बेटा शौच करने गया, तो खून निकल रहा था। इससे वो घबरा गया और घर जाने की जिद करने लगा। मामले की गंभीरता को देखते हुए उसे घर जाने की इजाजत मिल गई, लेकिन आरोपित नाजिम ने घटना की जानकारी किसी को देने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी।”

पीड़ित बच्चे के पिता के मुताबिक, घर लौटने के बाद वो डरा सहमा रहता था। किसी को कुछ बता नहीं रहा था। उसे बुखार भी था और बदन में दर्द की शिकायत भी कर रहा था। उसे दवा दी गई थी, लेकिन तब भी सुधार नहीं था। 

पिता ने आवेदन में आगे लिखा है, हमलोगों ने बहुत पूछा, तो उसने घटना के बारे में बताया।”

Bahadurganj Sodomy Aavedan

पिता का आरोप है कि इसकी शिकायत मदरसे के अन्य शिक्षकों से करने पर अबु कलाम नूरी ने धमकियां दीं। वे आवेदन में लिखते हैं,

“अबुल कलाम ने घर जलाने की धमकी देते हुए कहा कि तुम्हारे बेटे और तुम पर चोरी और घर जलाने का आरोप लगा कर जेल भिजवा दूंगा।” 

पीड़ित किशोर के पिता के आवेदन पर पुलिस ने इंडियन पीनल कोड की धारा 377 (यौनाचार) और पोक्सो एक्ट की धारा 4, 8 और 12 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

इलाके में वायरल एक वीडियो में पीड़ित बच्चे ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा है कि इससे पहले भी कई बच्चों के साथ मौलाना ये सब कर चुका है।

स्थानीय सूत्रों का कहना है कि उक्त नाजिम पर पहले भी इस तरह के गंभीर आरोप लग चुके हैं। बहादुरगंज थाने के एसएचओ ने कहा,

“हमें स्थानीय लोगों से जानकारी मिली है कि इस तरह के आरोप पहले भी लगे थे, लेकिन किसी तरह की लिखित शिकायत थाने में दर्ज नहीं हुई है क्योंकि ज्यादातर मामलों में स्थानीय स्तर पर ही सुलह कर ली जाती थी।”

एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक, इस मामले में भी पहले सुलह की कोशिश हुई थी, लेकिन कुछ स्थानीय जागरूक लोगों ने दबाव बनाया, तो मामला थाने तक पहुंचा है। पुलिस ने कहा कि मामले की छानबीन की जा रही है, लेकिन आरोपित घटना के बाद से ही फरार है। 

हमने पीड़ित के पिता से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन उन्होंने फ़ोन नहीं उठाया।

- Advertisement -spot_img

More articles

2 COMMENTS

  1. इस कुत्ते पे सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए और सजा दी जाए…..

  2. सलाम नमस्ते मैं मीडिया सभी साथियों को सर मैं यही कहना चाहूंगा सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए ताकि कोई ऐसा दोबारा करने से पहले सौ बार सोचे जय हिंद थैंक यू

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article