बिहार के किशनगंज में घर में आग लगने से एक ही परिवार के पांच लोगों की जलकर दर्दनाक मौत हो गयी। शहर के सलाम कॉलोनी में सोमवार अहले सुबह आग से जलकर चार बच्चे सहित एक व्यक्ति की मौत हो गयी। मरने वालों में गृहस्वामी नूर बाबु और उसके दो बेटे और दो बेटियां शामिल हैं। जबकि उसकी पत्नी आग से झुलस गयी है, जिसका इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है।

सिलिंडर फटने की आवाज सुनकर आस पास के लोगों ने मौके पर पहुँचकर फायर ब्रिगेड की टीम को सुचना दी, जिसके बाद ही फायर ब्रिगेड की टीम के द्वारा काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। आग के चपेट में आस पास के चार घर भी आ गए हैं।

बताया जाता है कि मृतक नूर बाबु बिजली मिस्त्री का काम किया करता था और अपनी पत्नी के साथ सलाम कॉलोनी स्थित एक किराये के माकन रहता था। जहाँ आज उसकी दर्दनाक मौत हो गयी। मरनेवालों में उसकी आठ वर्षीय और छः वर्षीय बेटियां, चार और दो वर्षीय बेटा शामिल है।

आग लगने की कारणों का पता नहीं चल पाया है। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस शव को कब्जे में लेकर मामले की जाँच में जुट गयी है।

प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो रात में खाना बनाने के बाद चूल्हा में आग नही बुझा था और करीब पौने तीन बजे आग लग गयी, जिसके बाद दो ब्लास्ट हुआ।

मौके पर पहुंचे अंचलाधिकारी समीर कुमार ने बताया कि मृतक के परिजनों को चार-चार लाख रुपये मुआबजा दिया जायेगा।