अब अररिया के कोरोनावायरस संक्रमण के संदिग्ध मरीजों के सैंपलों की जांच ज़िले में ही होगी‌। रविवार को सदर अस्पताल में कोरोना जांच केंद्र खोला गया। इसका उद्घाटन सांसद प्रदीप कुमार सिंह ने किया।

जांच घर में रोज़ाना 100-125 सैंपलों की जांच हो सकेगी।

मौके पर सांसद ने बताया कि अब ज़िले में ही कोरोना संक्रमितों की जांच होगी। इससे पहले सैम्पल दरभंगा मेडिकल कॉलेज भेजा जाता था, जिससे रिपोर्ट आने में काफी समय लगता था।

कोरोनावाइरस जांच घर उद्घाटन के दौरान सांसद प्रदीप सिंह व अन्य

इसे एक ऐतिहासिक मौक़ा बताते हुए सांसद ने कहा कि

सरकार इस बात को लेकर कटिबद्ध है कि हर ज़िले में कोरोना जांच केंद्र हो।

प्रदीप कुमार सिंह, सांसद

सांसद ने आगे कहा,

कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री ने आत्मनिर्भर भारत के बारे में कहा था। हमने ये जानकारी ली कि ये मशीन कहाँ से आई है, तो पता चला कि मशीन भारत की ही है, स्वदेशी है।

प्रदीप कुमार सिंह, सांसद

जानकारी के अनुसार अस्पताल प्रशासन द्वारा दो लैब टेक्नीशियनों को प्रशिक्षण दिलवा कर अररिया के इस जांच केंद्र में लाया गया है।

यहां ये भी बता दें कि अब तक ज़िले के 1556 लोगों की जांच हुई है, जिनमें 1416 की रिपोर्ट आ चुकी है। इनमें कुल 82 लोग संक्रमित पाए गए हैं, जबकि 1326 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। 127 लोगों की रिपोर्ट आनी बाकी है।

ज़िले में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की रिकवरी दर अच्छी है। कुल कोरोनावायरस पाज़िटिव मरीज़ों में से 70 स्वस्थ हो चुके हैं, जबकि 11 लोगों को आइसोलेशन वार्ड में रखकर इलाज किया जा रहा है।