Main Media

Seemanchal News, Kishanganj News, Katihar News, Araria News, Purnea News in Hindi

Support Us

असर: सीएम नीतीश कुमार ने किया मनिहारी में गंगा कटान का निरीक्षण

मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कटिहार जिले के मनिहारी प्रखंड स्थित बाघमारा पंचायत क्षेत्र में हो रहे है गंगा नदी कटान देखने पहुंचे।

syed jaffer imam Reported By Syed Jaffer Imam | Katihar |
Published On :

पिछले कुछ महीनों से ‘मैं मीडिया’ लगातार सीमांचल के अलग-अलग गाँव का दौरा कर नदी कटाव झेल रहे ग्रामीणों की समस्याओं को अपने दर्शकों और पाठकों के सामने पेश कर रहा है। इसी कड़ी में हमने कटिहार के मनिहारी और अमदाबाद में हो रहे नदी कटान और उससे हो रहे नुक्सान को भी आप तक पहुँचाया था।

मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कटाव ग्रस्त छेत्रों का हेलीकॉप्टर से जायज़ा लिया। मुख्यमंत्री कटिहार जिले के मनिहारी प्रखंड स्थित बाघमारा पंचायत क्षेत्र में हो रहे है गंगा नदी कटान देखने पहुंचे। एक हफ्ते पहले ही ‘मैं मीडिया’ इसी स्थल से ग्राउंड रिपोर्ट किया था।

अधिकारियों को कई आवश्यक निर्देश

मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार मुख्यमंत्री हवाई सर्वेक्षण के दौरान कटिहार ज़िले के मनिहारी प्रखंड के बाघमारा में हेलिपैड पर उतरे। उसके बाद उन्होंने बाघमारा ग्राम में गंगा नदी से हो रहे कटाव का स्थल निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री को जल संसाधन विभाग के अभियंताओं ने ड्रोन के माध्यम से लिए गए तस्वीर के आधार पर कटाव की वास्तविक स्तीथि की जानकारी दी।


मुख्यमंत्री ने बाघमारा में स्थल निरीक्षण के दौरान अधिकारियों को कई आवश्यक निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि बाघमारा में गंगा नदी के कटाव को रोकने के लिए सभी आवयशक कार्रवाई करें। जल संसाधन विभाग बाघमारा, मनिहारी में गंगा नदी के कटाव का डिटेल सर्वे कराये। उन्होंने कहा कि जल संसाधन विभाग की एक्सपर्ट टीम तीन दिनों के अंदर कटावग्रस्त क्षेत्र का निरीक्षण कर स्तिथि की जांच करे तथा बचाव हेतु कार्य करे। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि जल संसाधन विभाग के सचिव उच्चस्तरिय तकनीकी टीम के साथ कटिहार का दौरा कर कटाव रोकने के लिए रोडमैप तैयार कराएं। मुख्यमंत्री ने कटावग्रस्त छेत्र में सोल कटिंग कराने के साथ-साथ पुरानी धार की सफाई कराने का भी निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री ने महानंदा नदी के बाँध के लिए तेज़ी से कार्य कराने का निर्देश दिया। उन्होंने प्रमण्डलीय आयुक्त, पूर्णिया को भू-अर्जन कार्य में तेज़ी का भी निर्देश दिया। हवाई सर्वेक्षण एवं स्थल निरीक्षण के दौरान जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा ,मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार एवं जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा , मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार एवं जल संसाधन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल उपस्तिथ थे।

‘हमसे नहीं मिले सीएम’ – कटाव पीड़ित

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के हेलीकाप्टर के लैंड होते ही स्थानीय लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी, हालाँकि बैरीकेडिंग लगे होने के कारण मुख्यमंत्री की आम जनता से दूरी बनी रही। मुख्यमंत्री ने नदी कटाव से ग्रस्त स्थानों का द्वारा किया और प्रशाशन एवं स्थानीय नेताओं से बात चीत की। हालांकि स्थानीय लोग इस बात से नाराज़ नज़र आए कि मुख्यमंत्री कटाव पीड़ित ग्रामीणों से न मिले, न उनके दुःख-दर्द बांटे। मुख्यमंत्री से लगभग 500 मीटर की दूरी पर सभी लोग खड़े थे और इस इंतजार में थे कि मुख्यमंत्री उनसे मिलेंगे। जब मुख्यमंत्री उनके पास नहीं पहुंचे तो पीड़ित लोगों ने काफी हल्ला भी मचाया।

स्थानीय निवासी मनीष कुमार ने कहा, “मुखयमंत्री जी यहाँ आए हैं हमें बड़ी ख़ुशी है, लेकिन हम इस बात से निराश हैं के बैरिकेडिंग लगा दी गई है। नीतीश जी ने क्या कहा, नहीं कहा, हमें कुछ पता नहीं चल सका। उन्होंने केवल नेता और प्रसाशन के लोगों से बात की।”

मनिहारी में सीएम के आगमण पर महागठबंधन के नेता एवं कार्यकर्ताओं द्वारा उनका भव्य अभिनंदन किया गया। मौके पर जदयू विधायक बिजय सिंह ने मीडिया से बातचीत में बताया की मुख्यमंत्री पटना से कुर्सेला, खेरिया और कमलाघानी होते हुए मनिहारी तक पहुंचे और उन्होंने हेलीकाप्टर से इन तमाम कटाव ग्रस्त इलाक़ों का जायज़ा लिया।

जदयू विधायक के अनुसार मुख्यमंत्री ने कुर्सेला से लेकर अमदाबाद तक कटाव विरोधी काम में जल्दी करने की हिदयात दी है।

भ्रामक ट्वीट पर जदयू विधायक बोले

पिछले दिनों राज्य के जल संसाधन विभाग के द्वारा मनिहारी बाढ़ एवं नदी कटाव से ग्रस्त छेत्रों की तस्वीरें ट्विटर पर साझा करते हुए लिखा था ‘कटाव विरोध कार्य सुरक्षित है।’ जिसके बाद मनिहारी के विधायक मनोहर प्रसाद सिंह ने नाराज़गी जताते हुए ‘मैं मीडिया’ को सरकार द्वारा किये गए कार्यों का ब्यौरा देते हुए कहा था कि सरकार हर बार आधा अधूरा काम करती है, जिस से हर साल नदी कटाव से इलाके में सैकड़ों परिवार अपना घर खो देते हैं।

Also Read Story

असर: दैनिक जागरण की खबर ‘सीमांचल का सच’ के खिलाफ याचिका दायर

किशनगंज: दैनिक जागरण से आक्रोशित लोगों ने अखबार जलाकर जताई नाराज़गी

कटिहार: दैनिक जागरण के खिलाफ CM व DM से शिकायत

मिनहाज़ हत्याकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

‘मैं मीडिया’ की खबर के बाद आपदा प्रबंधन मंत्री पहुंचे ‘रहस्यमयी’ आगजनी वाला गाँव

इम्पैक्ट: पीयू सेंट्रल लाइब्रेरी, सरकार व यूजीसी-इनफ्लिबनेट के बीच हुआ समझौता

Main Media Impact: खबर छपी, स्कूल की व्यवस्था में हुआ सुधार

असर: आपदा मंत्री शाहनवाज़ आलम ने दिलाया नदी कटान से स्थाई हल का भरोसा

खबर का असर : मैं मीडिया की ग्राउंड रिपोर्ट के बाद जिलाधिकारी ने किया विद्यालय का औचक निरीक्षण

जल संसांधन विभाग के इस ट्वीट के बारे में पूछे जाने पर जदयू विधायक बिजय सिंह ने कहा, “नहीं ऐसा नहीं है, यह मनिहारी गंगा घाट नदी कटाव की समस्या है। जल संसांधन मंत्री संजय कुमार झा जी भी आए हुए हैं, उन्होंने राज्य में बहुत सराहनीय काम किए हैं। वह कहीं और के बारे में बताए होंगे।”

सीमांचल की ज़मीनी ख़बरें सामने लाने में सहभागी बनें। ‘मैं मीडिया’ की सदस्यता लेने के लिए Support Us बटन पर क्लिक करें।

Support Us

सैयद जाफ़र इमाम किशनगंज से तालुक़ रखते हैं। इन्होंने हिमालयन यूनिवर्सिटी से जन संचार एवं पत्रकारिता में ग्रैजूएशन करने के बाद जामिया मिलिया इस्लामिया से हिंदी पत्रकारिता (पीजी) की पढ़ाई की। 'मैं मीडिया' के लिए सीमांचल के खेल-कूद और ऐतिहासिक इतिवृत्त पर खबरें लिख रहे हैं। इससे पहले इन्होंने Opoyi, Scribblers India, Swantree Foundation, Public Vichar जैसे संस्थानों में काम किया है। इनकी पुस्तक "A Panic Attack on The Subway" जुलाई 2021 में प्रकाशित हुई थी। यह जाफ़र के तखल्लूस के साथ 'हिंदुस्तानी' भाषा में ग़ज़ल कहते हैं और समय मिलने पर इंटरनेट पर शॉर्ट फिल्में बनाना पसंद करते हैं।

Related News

इम्पैक्ट: मैं मीडिया की खबर के बाद जिलों की आधिकारिक वेबसाइट पर दुरुस्त की गईं सूचनाएं

अलताबाड़ी मामला: पांच लोग गिरफ्तार

शिक्षा मंत्री ने दिया शिक्षकों के ट्रांसफर को प्राथमिकता देने का आश्वासन

पीएचईडी मंत्री ने किया नल जल योजना का मुआयना, गड़बड़ियां सुधारने का दिया निर्देश

असर: रेप के मामले में मो. मेजर को मिली फांसी की सजा

पूर्णिया यूनिवर्सिटी में हुए भ्रष्टाचार की ऑडिट कर रही बिहार सरकार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latests Posts

Ground Report

जर्जर भवन में जान हथेली पर रखकर पढ़ते हैं कदवा के नौनिहाल

ग्राउंड रिपोर्ट: इस दलित बस्ती के आधे लोगों को सरकारी राशन का इंतजार

डीलरों की हड़ताल से राशन लाभुकों को नहीं मिल रहा अनाज

बिहार में क्यों हो रही खाद की किल्लत?

किशनगंज: पक्की सड़क के अभाव में नारकीय जीवन जी रहे बरचौंदी के लोग