मुख्यमंत्री आगमन के संभावित कार्यक्रम को लेकर पूर्णिया ज़िला अंतर्गत धमदाहा प्रखंड के रूपसपुर खगहा पंचायत सरकार भवन कार्यस्थली पर धड़ल्ले से बाल मजदूरी कराई जा रही है।

ज्ञात हो कि जनवरी माह में मुख्यमंत्री के संभावित कार्यक्रम को लेकर रूपसपुर खगहा पंचायत सरकार भवन परिषर को सजाने-संवारने को लेकर युद्धस्तर पर कार्य कराए जा रहे है।

जिसे लेकर प्रखंड स्तर से जिलास्तर के अधिकारी एड़ी चोटी का जोर लगाए हुए है। उक्त परिषर को सजाने संवारने में अधिकारी कोई कोर कसर नही छोड़ना चाहते परन्तु उक्त स्थल पर बाल मजदूरी को बढ़ावा देते हुए देखा जा सकता है। सभी नियमो को ताक पर रख तीन अलग-अलग जगहों पर बाल मजदूरों से काम करवाया जा रहा है। जहां एक बाल मजदूर ईंट ढोते नजर आया। दूसरा पलस्तर में राजमिस्त्री को सहयोग करते हुए तो वहीं तीसरा आंगनबाड़ी केंद्रों में पुताई का काम करता हुआ पाया गया।

हैरत की बात तो यह कि बुधवार को कार्यस्थल पंचायत सरकार भवन परिसर में प्रशिक्षु डीएम प्रतिभा, अनुमंडल पदाधिकार राजेश्वरी पांडे, बीडीओ रवि रंजन, मनरेगा कार्यक्रम पदाधिकारी अनवर कलीम, अभियंता के अलावे कई अधिकारियों की मौजूदगी में बाल मजदूर काम करते देखे गए।

एक तरफ सरकार बाल मजदूरी को कानूनन जुर्म बताते हुए बाल मजदूरी पर रोक लगाया हुआ है। परन्तु इन अधिकारियों के देखरेख में हो रहे कार्यस्थलों पर बाल मजदूरी इन अधिकारियों की दोहरी नियति को दर्शाती है |