Main Media

Seemanchal News, Kishanganj News, Katihar News, Araria News, Purnea News in Hindi

Support Us

एल एन एम आई पटना और माखनलाल पत्रकारिता विश्वविद्यालय से पढ़ा हुआ हूं। फ्रीलांसर के तौर पर बिहार से ग्राउंड स्टोरी करता हूं।

सुपौल की सामान्य सीट से दलित उम्मीदवार लगा पाएगा राजद का बेड़ा पार?

चंद्रहास चौपाल वर्तमान में सिंघेश्वर विधानसभा से विधायक हैं। 2020 के विधानसभा चुनाव से पहले चंद्रहास चौपाल भाजपा में थे। इस विधानसभा चुनाव में सिंहेश्वर सुरक्षित विधानसभा सीट जदयू के खाते में गई…

सुपौल: देश के पूर्व रेल मंत्री और बिहार के मुख्यमंत्री के गांव में विकास क्यों नहीं पहुंच पा रहा?

बिहार के सुपौल जिले का एक परिवार जिसके सदस्य केंद्रीय मंत्री, मुख्यमंत्री, राज्य सरकार में मंत्री, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष, सांसद और विधायक बने, सुपौल के लोग इस परिवार को बलुआ बाजार परिवार…

सुपौल: लठमार और कुर्ता फाड़ नहीं, फूलों से होली खेलते हैं यहां सभी धर्मों के बुजुर्ग

अक्षय वट वृक्ष बुजुर्ग संघ के बांके मंडल कहते हैं, "हर साल हमारे इलाके में बाढ़ आती है, जिससे हमारा पूरा इलाका प्रभावित होता है। ऐसे वक्त में हेल्पेज इंडिया रिलीफ के साथ…

बीपी मंडल के गांव के दलितों तक कब पहुंचेगा सामाजिक न्याय?

मुसहर टोले में रहने वाला 21 वर्षीय मनीष ऋषिदेव 2024 के लोकसभा चुनाव में पहली बार वोट करेगा। मनीष एकदम धीमी आवाज में कहता हैं, "मेरे मां-पिता ने सबको वोट दिया लेकिन आज…

सुपौल: घूरन गांव में अचानक क्यों तेज हो गई है तबाही की आग?

पछुआ मौसम के शुरुआती दौर में ही आग ने सुपौल में गांवों में अपना रौद्र रूप दिखाना शुरू कर दिया है। स्थानीय न्यूज के मुताबिक 3 जनवरी 2024 को सुपौल की बैरिया पंचायत…

“हम लोग घर के रहे, न घाट के”, मधेपुरा रेल इंजन कारखाने के लिए जमीन देने वाले किसानों का दर्द

भारतीय रेलवे और फ़्रांस की कंपनी एल्सटॉर्म के संयुक्त उद्यम के तहत मधेपुरा प्रखंड के लक्ष्मी रामपुर चकला गांव में इस रेल इंजन कारखाने की शुरुआत की गई थी। मधेपुरा इलेक्ट्रिक लोकोमोटिव प्राइवेट…

कोसी की समस्याओं को लेकर सुपौल से पटना तक निकाली गई पदयात्रा

कोसी नव निर्माण मंच ने बीते 30 जनवरी को सुपौल के बैरिया मंच से सत्याग्रह पदयात्रा की शुरुआत की जिसमें दर्जनों लोग ढाई सौ किलोमीटर पैदल चलकर राजधानी पटना पहुंचेंगे।

सुपौल: प्रचार प्रसार के अभाव में आश्रय स्थल नहीं पहुंच पा रहे जरूरतमंद

आश्रय स्थल में आने वाले लोगों को एंट्री करनी पड़ती है। एंट्री करने वाली कॉपी में लिखे नाम के मुताबिक, 9 जनवरी को 6, 10 जनवरी को 13 और 11 जनवरी को 12…

सुपौल: 16 साल से रास्ते का इंतजार कर रहा विद्यालय, सीएम का दौरा भी बेअसर

सुपौल जिले की माल्हनी पंचायत के वार्ड नंबर 10 यानी सिमरा टोला स्थित प्राथमिक विद्यालय में जाने के लिए पगडंडी वाला रास्ता है। बरसात के मौसम में उस रास्ते से जाने में काफी…

सुपौल शहर की गजना नदी अपने अस्तित्व की तलाश में

सुपौल शहर के बीचों-बीच गजना नदी बहती है। शहर के बीएसएस कॉलेज के पश्चिमी छोर से लेकर बकौर तक बहने वाली गजना धार कोशी की सहायक नदियों में एक है। जल्द ही प्रशासनिक…

सुपौल: 36 घंटे में तीन हत्याएं, नए पुलिस कप्तान के लिए चुनौती

शैशव यादव 2007-2010 तक सुपौल में सदर एसडीपीओ के पद पर कार्यरत थे। उनके सुपौल एसपी बनने के 36 घंटे के भीतर जिले में तीन हत्याएं हो चुकी हैं। ऐसे में नए पुलिस…

सुपौल: आध्यात्मिक व पर्यटन स्थल के रूप में पहचान के लिए संघर्ष कर रहा परसरमा गांव

18वीं शताब्दी में तत्कालीन भागलपुर जिला और वर्तमान सुपौल जिला के परसरमा गांव में बाबा जी का जन्म पंडित बच्चा झा के पुत्र के रूप में हुआ था।

असर: मैं मीडिया की खबर के बाद कूड़ा हटाया गया

21 फरवरी 2023 को 'मैं मीडिया' के द्वारा सुपौल ज़िले के वीणा सड़क पर इंजीनियरिग कॉलेज के समीप सबसे ज्यादा कचड़ा फेंके जाने पर स्टोरी की गई थी।

कोसी पीड़ितों की पंचायत तले कोसी नदी जन आयोग की रिपोर्ट जारी

कोसी नदी के तटबंधों के भीतर रहने वाले लोगों के हक के लिए एन सिन्हा इंस्टिट्यूट के सभागार में 23 और 24 फरवरी को कोसी नवनिर्माण मंच की पहल पर कोसी कन्वेंशन का…

सुपौल: कचरे का अंबार बिगाड़ रहा आदर्श नगर परिषद की सूरत

सुपाैल नगर परिषद को आदर्श नगर परिषद् का दर्जा प्राप्त है। 2020 के सर्वेक्षण में सुपौल को 15वां स्थान प्राप्त हुआ था। वहीं 'स्वच्छ सर्वेक्षण 2021' में स्वच्छ और कचरा मुक्त होने के…

Latest Posts

Ground Report

किशनगंज: दशकों से पुल के इंतज़ार में जन प्रतिनिधियों से मायूस ग्रामीण

मूल सुविधाओं से वंचित सहरसा का गाँव, वोटिंग का किया बहिष्कार

सुपौल: देश के पूर्व रेल मंत्री और बिहार के मुख्यमंत्री के गांव में विकास क्यों नहीं पहुंच पा रहा?

सुपौल पुल हादसे पर ग्राउंड रिपोर्ट – ‘पलटू राम का पुल भी पलट रहा है’

बीपी मंडल के गांव के दलितों तक कब पहुंचेगा सामाजिक न्याय?