Main Media

Seemanchal News, Kishanganj News, Katihar News, Araria News, Purnea News in Hindi

Support Us

Aaquil Jawed is the founder of The Loudspeaker Group, known for organising Open Mic events and news related activities in Seemanchal area, primarily in Katihar district of Bihar. He writes on issues in and around his village.

24 घंटे में 248 पेंटिंग बनाकर विश्व रिकॉर्ड बनाया सीमांचल का लाल रेहान

कला के क्षेत्र में रेहान अपनी अलग पहचान बनाना चाहते हैं। वह बहुत छोटी आयु से स्केचिंग और पेंटिंग कर रहे हैं। घर वाले उन्हें डॉक्टर या इंजीनियर बनाना चाहते थे लेकिन रेहान…

“राजवंशी समुदाय को बिहार में मिले अनुसूचित जनजाति का आरक्षण”- राजवंशी कल्याण परिषद

राजवंशी कल्याण परिषद के बिहार प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह बौसन और राकेश कुमार सिंह ने बताया कि राजवंशी परिवार का कोई सुनने वाला नहीं है, इसलिए आने वाले समय में चुनाव के वक्त…

कम मजदूरी, भुगतान में देरी – मजदूरों के काम नहीं आ रही मनरेगा स्कीम, कर रहे पलायन

मनरेगा मजदूरों को इस योजना से फायदे के बजाय नुकसान ज्यादा हो रहा है। काम करने के बाद वे महीनों भुगतान के इंतजार में बैठे रहते हैं जिससे उन्हें और उनके परिवारों को…

कटिहार: 2017 की बाढ़ में टूटी सड़क, रोज़ नांव से रेलवे स्टेशन जाते हैं सैकड़ों लोग

बलरामपुर अनुमंडल अंतर्गत अझरैल रेलवे स्टेशन को मुख्य मार्ग से जोड़ने वाली सड़क 2017 के सैलाब में बह गई थी लेकिन अब तक सड़क नहीं बनायी गयी। जहां सड़क हुआ करती थी, वह…

जलजमाव पर ख़बर प्रसारित होने के दूसरे दिन ही सड़क की मरम्मत शुरू

कटिहार जिले के सालमारी बाजार में जलजमाव की समस्या पर 28 सितम्बर को मैं मीडिया ने ग्राउंड रिपोर्टिंग पब्लिश की थी। इस खबर के चलने के दूसरे दिन ही इसका असर देखा जा…

कटिहारः जलजमाव से सालमारी बाजार का बुरा हाल, लोगों ने की नाला निर्माण की मांग

लगातार पानी जमा रहने की वजह से सड़क पर गड्ढे हो गए हैं। सबसे ज्यादा दिक्कत स्कूलों और सालमारी कॉलेज में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं तथा रेलवे स्टेशन जाने वाले यात्रियों को होती है।…

दुर्घटना में मरने वाले प्रवासी मज़दूरों के परिवारों को सरकारी मदद का इंतज़ार

बिहार के सीमांचल में प्रवासी मज़दूरों की संख्या काफी अधिक है। दुर्घटना का शिकार होने वाले इस क्षेत्र के मज़दूरों के परिवार किस हाल में हैं, यह जानने के लिए हम कटिहार जिले…

आजमनगर में दिन दहाड़े युवक का गला रेता, मौत

ग्रामीणों ने बताया कि यह घटना लगभग साढ़े 3 बजे दिन की है। उक्त युवक कलमेघा मोड़ कैसे पहुंचा, उसका गला किसने रेता, युवक का घर कहां है व उसका नाम क्या है,…

“ऑपरेशन मुस्कान” के तहत कटिहार पुलिस ने लांच किया क्यूआर कोड

पुलिस अधीक्षक जितेंद्र कुमार ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि जिले में जितने भी मोबाइल फोन चोरी हो गए हैं, छीने गए हैं या किसी भी तरह से गुम हो गए हैं,…

कटिहार: सड़क किनारे घर के ऊपर पलटी ओवरलोड पिकअप, बाल बाल बची महिला

महिला का कहना है कि घटना के दौरान वह और उनका बेटा उसी घर में थे और वह खाना बना रही थी। जब घर टूटकर गिरा तो मां और बेटा दोनों मलवे के…

कटिहार: दशकों से एक सड़क के लिए तरसता कदवा का सबनपुर गांव

कटिहार जिले के कदवा प्रखंड अंतर्गत सबनपुर गांव आजादी के बाद से एक मामूली सी सड़क के लिए तरस रहा है। इस गांव में लगभग एक हजार परिवार रहते हैं, जो सड़क न…

19 सूत्री मांगों को लेकर पूरे बिहार में मुखियाओं की राज्यव्यापी हड़ताल

मुखिया संघ की मुख्य मांगों में मांग ग्राम पंचायत को 73वें संविधान संशोधन के तहत प्रदत्त 29 अधिकारों को पूर्णरूपेण ग्राम पंचायत को सौंपना, ग्राम सभा से चयनित योजनाओं को प्राथमिकता देना, सरकार…

कटिहार: निर्माण के पहले साल ही टूट गई सड़क, ग्रामीण परेशान

आसपास के बच्चे भी इसी सड़क से होते हुए बारसोई के विभिन्न स्कूलों में पढ़ने जाते हैं। करीब 7 सालों से जर्जर पड़ी इस सड़क के लिए स्थानीय ग्रामीण ठेकेदार को ज़िम्मेदार मानते…

कटिहार: महानंदा नदी में डुबा युवक, एसडीआरएफ का सर्च ऑपरेशन जारी

स्थानीय मुखिया प्रतिनिधि इकबाल हुसैन और मुखियापति मो० अरब ने ‘मैं मीडिया’ को बताया कि महानंदा नदी किनारे नहाने के दौरान पैर फिसल जाने से 21 वर्षीय मो० मसूद आलम नदी की तेज…

2017 के सैलाब में उजड़े, अब तक नहीं हो पाये आबाद, बांध पर रहने को मजबूर

सैलाब के समय बशीर का घर गांव में ही था। सैलाब के बाद जब उन्होंने उसी स्थान पर घर बनाना शुरू किया तो दूसरे लोगों ने मना कर दिया। उनकी जमीन को घेर…

Latest Posts

Ground Report

किशनगंज के इस गांव में बढ़ रही दिव्यांग बच्चों की तादाद

बिहार-बंगाल सीमा पर वर्षों से पुल का इंतज़ार, चचरी भरोसे रायगंज-बारसोई

अररिया में पुल न बनने पर ग्रामीण बोले, “सांसद कहते हैं अल्पसंख्यकों के गांव का पुल नहीं बनाएंगे”

किशनगंज: दशकों से पुल के इंतज़ार में जन प्रतिनिधियों से मायूस ग्रामीण

मूल सुविधाओं से वंचित सहरसा का गाँव, वोटिंग का किया बहिष्कार