घर बैठे आप एक साल में कितना कमा सकते हैं? नहीं पता? मैं बताता हूं। अगर आप विधायक हैं तो आपका परिवार बिना कुछ किए ही साल भर में 13 लाख रूपये तक कमा सकता है, वो भी छह महीने के Lockdown के बावजूद।

बिहार विधानसभा चुनाव के आखिरी चरण का नॉमिनेशन समाप्त हो चूका है। तमाम उम्मीदवारों के एफिडेविट अब ऑनलाइन अवेलेबल हैं।

हम एक एक करके आपको इन एफेडेविट में दी गयी जानकारियां देने की कोशिश करेंगे।
शुरुवात करते हैं किशनगंज विधानसभा से AIMIM विधायक कमरूल होदा से, जो फिलहाल बिहार से अपनी पार्टी के एकलौता विधायक हैं, कमरूल होदा एक साल पहले ही उपचुनाव जीत कर विधानसभा पहुंचे थे।

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में AIMIM के कमरुल होदा ने जो एफिडेविट जमा किया है, उसमें उन्होंने अपने चल अचल सम्पति, मुकदमा और शैक्षणिक योग्यता जैसी तमाम जानकारियां दीं हैं, जो सभी उम्मीदवारों को देना होता है।

कमरुल होदा ने बंगाल के पांजीपाड़ा स्थित इलाही बख्श हाई स्कूल से वर्ष 1979 में मैट्रिक की है। कमरुल होदा पर महामारी विधि उल्लंघन मामले को लेकर एक मुकदमा भी दर्ज है।

2015 में कमरुल होदा ने अपनी उम्र 53 साल बताई थी, चार साल बाद 2019 में वे 59 के हो गए, यानी चार साल में कमरुल हुदा 6 साल बड़े हो गए और तो और वर्ष 2020 में कमरुल होदा का उम्र 59 से घाट कर 57 हो गई है, यानी एक साल में विधायक जी दो साल छोटे हो गए हैं।

कमरुल होदा लगभग दो करोड़ 58 लाख रूपये के मालिक है। विधायक बनते ही कमरुल होदा की तरक्की दिन दूनी रात चौगुनी हो गई है, यानी लगभग 6 महीने की लॉकडाउन में भी विधायक जी की आमदनी में कोई फर्क नहीं पड़ा और बेतहाशा कमाई की।

चलिए इन सम्पतियों का ब्यौरा थोड़ा डिटेल में देखते हैं।

पहले उनके चल सम्पति यानि कैश, बैंक में जमा राशि, बीमा के पैसे, गाड़ी आभूषण और वस्तुए जैसे रायफल आदि को देखते हैं।

कमरुल होदा के नाम पर कुल सम्पति लगभग 41 लाख, उनकी पत्नी के नाम से चल सम्पति लगभग 7 लाख, दो बेटों के नाम कुल लगभग 10 लाख और बेटी के नाम पर लगभग चार लाख रूपये की सम्पति है।

कमरुल होदा के नाम पर जो ज़मीन हैं उसकी कीमत मौजूदा समय में लगभग एक करोड़ 88 लाख रूपये है, वहीं उनकी पत्नी के नाम लगभग 6 लाख रूपये की ज़मीन है।

इस तरह कमरुल होदा परिवार की कुल सम्पति 2 करोड़ 58 लाख रूपये है।
हो सकता है कि आपके मन में यह सवाल आए कि ये सम्पति आई कहाँ से?

कमरुल होदा ने अपने आय के श्रोत खेतीबारी, किराया और वेतन बताया है, लेकिन उनकी पत्नी, दो बेटे और बेटी किसी रोज़गार से जुड़े नहीं हैं। यानी कमरुल हुदा को छोड़कर अगर उनके परिवार की बात करें, तो बिना कुछ किये ही एक साल में पत्नी, दो बेटे और बेटी लगभग 13 लाख की सम्पति के मालिक बन गए हैं।

अब हो सकता है की कई लोगों के मन में यह सवाल आये की कमरुल हुदा परिवार की सम्पति पहले से ही इतनी थी, लोग कह सकते हैं कि किराया और कृषि से इनकी कमाई ऐसी ही रही है?

तो चलिए यह भी देख लेते हैं की पिछले पांच सालों में कमरुल हुदा की कमाई की रफ़्तार कैसी रही है, विधायक बनने से पहले सालाना कमाई क्या थी और विधायक बनते ही सिर्फ एक साल में कितनी कमाई हुई?

कमरुल होदा वर्ष 2015 में विधानसभा चुनाव लड़े, वर्ष 2019 में किशनगंज विधानसभा उपचुनाव लड़े और अब फिर 2020 में विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं।

यानी कमरुल होदा की जिंदगी में पांच वर्षों के अंदर क्या-क्या बदलाव आये हैं, सम्पति कितनी बढ़ी है, पिछले पांच वर्षों में कमरुल होदा बड़े हुए हैं या छोटे हो गए है, ये सभी जानकारियाँ 2015, 2019 और 2020 के तीनों एफिडेविट से बाहर आ सकती है।

पिछले पांच वर्षों में कमरुल होदा के जमीन जायदाद में कोई वृद्धि नहीं हुई है।

वर्ष 2015 में कमरुल होदा के नाम से कुल सम्पति लगभग 24 लाख थी, पत्नी की सम्पति लगभग 2 लाख की और बेटे की सम्पति लगभग 1 लाख 75 हज़ार रुपये की थी।

वहीँ 2019 में कमरुल होदा के नाम से कुल सम्पति 29 लाख थी, पत्नी की कुल सम्पति लगभग 4 लाख 80 हज़ार और बच्चों के नाम से कुल सम्पति लगभग 4 लाख 93 की थी।

यानी 2015 से 2019 के बीच चार वर्षों में कमरुल होदा के संपति में 4 लाख 74 हज़ार रूपये की वृधि हुई, वहीं पत्नी की सम्पति लगभग 2 लाख 65 हज़ार और बच्चों की सम्पति में लगभग 3 लाख 17 हज़ार की वृधि हुई।

मतलब विधायक बनने से पहले चार सालों में कमरुल होदा परिवार की सम्पति मात्र 10 लाख 56 हज़ार बढ़ी।

लेकिन, विधायक बनते ही कमरुल होदा की निजी सम्पति मात्र एक साल में 12 लाख 52 हज़ार बढ़ गई, पत्नी और तीन बच्चे कुछ नहीं करते हैं, उसके बावजूद मात्र एक साल में पत्नी की सम्पति 3 लाख 9 हज़ार और बच्चों की सम्पति 10 लाख 3 हज़ार बढ़ गई। मतलब कमरुल होदा की पत्नी और बच्चों ने मात्र एक साल में, जिसमें छः महीने का लॉकडाउन भी रहा, उसके बावजूद 13 लाख की कमाई कर ली।